प्रकृति की भरने गोद, जन्मदिन पर लगाओ एक पौध: भारद्वाज

- डिजिटल बाल मेले में बच्चों से मुखातिब हुए पीसीसी सचिव पुष्पेंद्र भारद्वाज
- पर्यावरण संरक्षण का बताया महत्व, पौधरोपण करने के लिए किया प्रोत्साहित 
- पेड़ काटने वालों की सूचना पुलिस को देने की दी नसीहत 


जस्ट टुडे
जयपुर।
सांगानेर विधानसभा में कांग्रे्रस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज ने शुक्रवार को बच्चों को पर्यावरण का पाठ पढ़ाया। भारद्वाज ने बच्चों को मानसून में ज्यादा से ज्यादा पौधरोपण करने को कहा। भारद्वाज शुक्रवार को फ्यूचर सोसायटी और एलआईसी की ओर से आयोजित डिजीटल बाल मेले के जरिए बच्चों से पर्यावरण संरक्षण पर संवाद कर रहे थे। उन्होंने बच्चों से कहा कि जन्मदिन पर एक पौधा लगाने का संकल्प करें और अपनी तरह उसकी भी देखभाल करें। उन्होंने कहा कि यदि कोई पेड़ काटता है तो उसे मना करें, यदि वह नहीं मानता है तो कानून का सहारा लेना चाहिए। 

ख्वाहिश से भारद्वाज ने की ख्वाहिश

इस दौरान जयपुर की ख्वाहिश गुप्ता ने भारद्वाज से पूछा कि बच्चे पर्यावरण का संरक्षण कैसे कर सकते हैं और अपने आसपास के क्षेत्र को साफ-सुथरा कैसे रख सकते हैं? इस पर पीसीसी सचिव पुष्पेंद्र भारद्वाज ने कहा कि पर्यावरण की देखभाल करना बहुत जरूरी है और पर्यावरण की देखभाल करने से पहले हमें ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने होंगे। इसकी शुरुआत हमें अपने घर से करनी होगी। पुष्पेंद्र भारद्वाज ने ख्वाहिश से जन्मदिन पर पौधे लगाने की ख्वाहिश की। उन्होंने कहा कि वे जन्मदिन पर पौधे उपलब्ध कराएंगे। 

बोले बच्चे, सरकार ड्रोन से करे पेड़ों की सुरक्षा

संवाद में पर्यावरण संरक्षण को लेकर बच्चों ने पुष्पेंद्र भारद्वाज से सवाल करने के साथ ही कई सुझाव भी दिए। बच्चों ने बताया कि सरकार को ड्रोन की सहायता से पेड़ों की सुरक्षा का ध्यान रखना चाहिए। साथ ही कहा की सरकार को ऐसा कानून बनाना चाहिए कि पेड़ों को नुकसान पहुंचा रहे लोगों पर सीधी कार्यवाही हो और उन्हें कड़ी सजा दी जाए। संवाद के दौरान पीसीसी सचिव भारद्वाज ने बच्चों का ज्ञानवर्धन किया और बताया कि एक पेड़ करोड़ों रुपए की कीमत के ऑक्सीजन की पूर्ति करता है। ऐसे में पेड़ लगाना बहुत जरूरी है। ये हमारा जीवन बचाने के साथ ही देश को प्रदूषण मुक्त करने में भी सहायता देते हैं।

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार