अब शिक्षक बनकर बच्चों को पर्यावरण का पाठ पढ़ाएंगे भारद्वाज

- फ्यूचर सोसाइटी और एलआईसी की ओर से आयोजित किए जा रहे डिजीटल बाल मेले में कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज बच्चों से करेंगे संवाद

जस्ट टुडे
जयपुर।
सांगानेर विधानसभा में कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज अब मंझे हुए राजनेता के बाद कुशल शिक्षक के नए अवतार में भी लोगों के सामने आ रहे हैं। चौंकिएगा नहीं, यह बिलकुल सही है। कांग्रेस नेता भारद्वाज डिजीटल प्लेटफॉर्म पर बच्चों को पर्यावरण संरक्षण का पाठ पढ़ाएंगे। दरअसल, फ्यूचर सोसाइटी और एलआईसी की ओर से बच्चों के लिए रचनात्मक मंच 'डिजिटल बाल मेला 2021' सीजन-2 का आयोजन किया जा रहा है। इस मंच पर रोजाना अलग-अलग विषयों पर बच्चों से बात की जाती है। यह बाल मेला गूगल मीट पर शुक्रवार शाम 4 बजे आयोजित किया जाएगा।

भारद्वाज से मन की बात कर सकते हैं बच्चे 

डिजिटल बाल मेला 2021 में कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज बच्चों को पर्यावरण संरक्षण में उनके योगदान के बारे में बताएंगे। इस संवाद में पीसीसी सचिव भारद्वाज बच्चों को पर्यावरण सुरक्षित रखने से भविष्य में होने वाले असर पर बात करेंगे। इस संवाद में बच्चे भारद्वाज से अपने मन की हर बात साझा कर सकते हैं। अपने सवाल उनके सामने रख सकते हैं। वहीं, यदि वो सरकार को कोई सुझाव देना चाहते हैं तो इस लाइव सेशन में दे सकते हैं।

संरक्षण के लिए बच्चों को देंगे टिप्स

पुष्पेन्द्र भारद्वाज ने बताया कि डिजीटल बाल मेले के जरिए वे बच्चों से सीधा संवाद करेंगे। उन्होंने बताया कि अभी तक बच्चों ने पर्यावरण संरक्षण को सुरक्षित रखने के बारे में सिर्फ किताबों में ही पढ़ा है। अब उन्हें सक्रिय रूप से वातावरण को स्वस्थ और सुरक्षित कैसे रखा जा सकता है, इसके बारे में बताया जाएगा। पीसीसी सचिव भारद्वाज ने बताया कि वे बच्चों को पर्यावरण संरक्षण के लिए छोटी-छोटी एक्टिविटी करने के टिप्स भी देंगे। उन्होंने बताया कि उन्हें पौधरोपण करने का बहुत शौक है। वे सांगानेर विधानसभा की जनता और प्रबुद्ध नागरिकों को समय-समय पर पौधरोपण करने के लिए प्रेरित करते हैं। उनके प्रयासों से विधानसभा में कई जगह पौधरोपण का कार्य हुआ भी है। उन्होंने बताया कि उनके प्रयासों से मानसरोवर में बना एशिया का सबसे बड़ा पार्क भी पर्यावरण संरक्षण में एक मिसाल है। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार