...तो निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ सड़क पर उतरेंगे अभिभावक

 - सुप्रीम कोर्ट के आदेश और फीस एक्ट की पालना करवाने को लेकर अभिभावक संघ सोमवार को जयपुर जिलाधीश को देंगे ज्ञापन


जस्ट टुडे
जयपुर।
निजी स्कूलों की मनमानी फीस के खिलाफ फिर अभिभावक सड़क पर उतरने की तैयारी कर रहे हैं। संयुक्त अभिभावक संघ की ओर से सोमवार को जयपुर जिलाधीश को ज्ञापन दिया जाएगा। ज्ञापन में सुप्रीम कोर्ट के आदेश और फीस एक्ट 2016 की अनुपालना सुनिश्चित करने और कानून तोडऩे वाले स्कूलों पर कार्यवाही की मांग की जाएगी। जिलाधीश को बुधवार तक का अल्टीमेटम दिया जाएगा। 
    संयुक्त अभिभावक संघ का आरोप है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश को दो माह से ऊपर हो गए है, किंतु निजी स्कूलों के दबाव के चलते शिक्षा विभाग और राज्य सरकार कोर्ट के आदेश की पालना सुनिश्चित नहीं करवा रही है। 

विद्यार्थियों का भविष्य हो रहा अंधकारमय

प्रदेश कोषाध्यक्ष सर्वेश मिश्रा और प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज शर्मा ने कहा कि सरकार और शिक्षा विभाग के इस रवैये से प्रदेश के हजारों छात्र-छात्राओं सहित अभिभावकों के सपनों का भविष्य अंधकार में जा रहा है। निजी स्कूल संचालक मनमानी करते हुए फीस जमा करवाने का दबाव बना रहे हैं। फीस जमा नहीं करवाने पर बच्चों के नाम काटने और पढ़ाई रोक देने की धमकियां देकर सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवमानना कर रहे हैं। शिक्षा विभाग को तथ्यों के साथ शिकायत भी दर्ज करवा रहे हैं, किंतु विभाग कोई कार्यवाही ना कर निजी स्कूलों की हठधर्मिता को संरक्षण दे रहा है। जिसके चलते छात्र-छात्राओं का भविष्य अंधकार में जाता दिख रहा है।

राज्य सरकार के खिलाफ करेंगे प्रदर्शन

प्रदेश अध्यक्ष अरविंद अग्रवाल ने कहा कि स्कूल, सरकार और विभाग के रवैये से प्रदेश का अभिभावक तंग का चुका है अभिभावक ना राहत मांग रहा है ना भीख मांग रहा है वह केवल सुप्रीम कोर्ट के आदेश और फीस एक्ट 2016 की पालना सुनिश्चित करने की मांग कर रहा है। इसी के संदर्भ में सोमवार को जयपुर जिलाधीश को बुधवार तक के अल्टीमेटम का ज्ञापन दिया जाएगा और उसके उपरांत मुख्य संचेतक राजस्थान विधानसभा महेश जोशी से भी मुलाकात कर अभिभावकों की बात रखी जाएगी। बुधवार तक कोई निर्णय नही मिलने की स्थिति में सड़कों पर उतरकर राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने पर मजबूर होना पड़ेगा। 

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार