ग्रेटर की कार्यवाहक महापौर धाबाई पर हमले की कोशिश

- सुरक्षा गार्ड और ड्राइवर ने एक हमलावर को पकड़ा, दो फरार

- प्रारंभिक तौर पर पुलिस ने किया हमले से इनकार

- कांग्रेस महापौर प्रत्याशी दिव्या सिंह ने बताया हमले को चिंताजनक

जस्ट टुडे
जयपुर।
नगर-निगम गे्रटर की कार्यवाहक महापौर शील धाबाई के निवास पर तीन युवकों ने उन पर हमले का प्रयास किया। एक युवक को उनके सुरक्षा गार्ड और ड्राइवर ने पकड़ लिया। दो अन्य युवक फरार हो गए, पुलिस उनकी तलाश कर रही है। पकड़े गए युवक के पास से लोहे की रॉड भी बरामद हुई है। हालांकि, प्रारंभिक तौर पर पुलिस ने हमले से मना किया है। 

छुड़ाने के फेर में हमलावर के आई चोट

जानकारी के मुताबिक कार्यवाहक महापौर धाबाई के अजमेर रोड स्थित हीरापुरा निवास पर तीन बाइक सवार पहुंचे थे। इनमें से एक हमलावर 18 वर्षीय पिन्टू को ड्राइवर और सुरक्षा गार्डों ने पकड़ लिया। स्वयं को बचाने के फेर में हमलावर के सिर पर हल्की चोट भी लग गई।

स्कूटर सवार से हो गई थी भिडन्त, विवाद से बचने के लिए महापौर के पास खाली प्लॉट में कूदा युवक: पुलिस

करणी विहार पुलिस ने हमले से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि पकड़ा गया युवक बागरिया है। ये अपने साथी के साथ बाइक पर जा रहे थे। तभी इनकी बाइक किसी स्कूटर सवार से टकरा गई। इससे उनका विवाद हो गया। विवाद से बचने के लिए ये कार्यवाहक महापौर के पास  वाले प्लॉट में कूद गया, जिसे सुरक्षा गार्डों ने पकड़ लिया। पुलिस ने बताया कि लोहे की रॉड के सम्बंध में पूछताछ जारी है। 

जिनसे मेरे हित टकरा रहे हैं, उन्होंने कराया हमला

हमले के बाद कार्यवाहक महापौर शील धाबाई ने विरोधियों पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जिन्हें मुझसे परेशानी है या जिनके हित मुझसे टकरा रहे हैं, शायद वे ऐसा करवा रहे हैं। कार्यवाहक महापौर ने कहा कि पिछले कई दिनों से अलग-अलग लोग नजर रख रहे थे। ये बात उनके सुरक्षा गार्डों ने उन्हें बताई।
हमला निन्दनीय, मास्टरमाइंड का पता लगाए पुलिस

ग्रेटर कार्यवाहक महापौर शील धाबाई पर जो हमला हुआ है, उसकी कड़ी निन्दा करती हूं। ईश्वर की कृपा से कार्यवाहक महापौर बाल-बाल बचीं है। यह घटना बहुत चिन्ताजनक है। मेरा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से आग्रह है कि हमलावरों को जल्द गिरफ्तार किया जाए। इस हमले के पीछे मास्टरमाइंड का भी जल्द पता लगाया जाए।
- दिव्या सिंह, कांग्रेस महापौर प्रत्याशी, जयपुर नगर निगम ग्रेटर

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार