शंकर ने आहत से निपटने में सीएम कोष में दी 'राहत'

- वार्ड 83 पार्षद शंकर बाजडोलिया ने मुख्यमंत्री राहत कोष कोविड़-19 में दिया 6 महीने का वेतन


जस्ट टुडे
जयपुर।
सांगानेर विधानसभा में कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज और उनके पार्षद कोरोना काल में सेवा करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। ऑक्सीजन सिलेण्डर की आवश्यकता हो, चाहे ऑक्सीमीटर की या फिर अस्पताल में भर्ती कराने की बात हो, चाहे मरीजों के परिजनों को भोजन पहुंचाने की। हर कार्य में पुष्पेन्द्र भारद्वाज और उनकी टीम नि:स्वार्थ सेवा में लगी हुई है। टीम पुष्पेन्द्र भारद्वाज के प्रमुख सिपहसालरों में से एक वार्ड 83 के पार्षद शंकर बाजडोलिया ने कोरोना महामारी से निपटने के लिए पार्षद कोटे का 6 माह का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष कोविड-19 राहत कोष में देने की घोषणा की है। 

भारद्वाज को सौंपा घोषणा पत्र

पार्षद शंकर बाजडोलिया ने इस घोषणा का पत्र कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज को सौंपा। बाजडोलिया ने सभी से अपील की है कि सभी इस महामारी से निपटने में जितनी हो सके, अवश्य मदद करें। लॉकडाउन के नियमों का पालन करें। बिना कार्य के घरों से बाहर ना निकलें, सावधान रहें, सतर्क रहें। 

सीएम को पत्र में यह लिखा

मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में बाजडोलिया ने कहा है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने अपना विकराल रूप ले लिया है। हम सब मिलकर आपके नेतृत्व में इस महामारी से निपटने में प्रयासरत हैं। वर्तमान समय में प्रदेशवासियों की जीवन रक्षा के लिए राज्य में पर्याप्त संसाधनों की आवश्यकता है। इसके लिए आप दिन-रात मेहनत कर रहे हैं। प्रदेशवासियों को इस समय आपसे बहुत उम्मीदें हैं। इसलिए मैं भी आपकी ओर से किए जा रहे प्रयासों में अपने आपको सम्मिलित करते हुए पार्षद पद की हैसियत से प्राप्त होने वाला 6 माह का वेतन राजस्थान मुख्यमंत्री सहायता कोष कोविड-19 राहत कोष में जमा करवाने के लिए सहमति प्रकट करता हूं। 

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार