'जय' कोरोना में जरूरतमंदों को भोजन बांट कर रहे 'प्रकाश'

- युवा एकता मंच के अध्यक्ष पिछले 12 दिनों से जरूरतमंदों को बांट रहे रोजाना 300 भोजन पैकेट


जस्ट टुडे
जयपुर।
कोरोना से जंग लडऩे में जहां सरकार ने अपने पूरे संसाधन झोंक रखे हैं, वहीं समाज का सम्पन्न वर्ग भी अपने-अपने तरीके से सहयोग कर रहा है। कोई जरूरतमंदों को दवा दे रहा है, तो कोई भोजन तो कोई आर्थिक मदद कर रहा है। इससे कोरोना काल में जरूरतमंदों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ रहा है। कोरोना में जरूरतमंदों की मदद का बीड़ा युवा एकता मंच के अध्यक्ष जयप्र्रकाश बुलचंदानी ने भी उठा रखा है। बुलचंदानी रोजाना करीब 300 जरूरतमंदों को भोजन पैकेट बांट रहे हैं। पिछले 12 दिनों से उनकी यह सेवा निरन्तर चल रही है। 

परिचितों की मदद से मां घर पर ही तैयार करती है भोजन

युवा एकता मंच के अध्यक्ष जयप्रकाश बुलचंदानी ने बताया कि कोरोना की पहली लहर में भी मैंने जरूरतमंदों को भोजन पैकेट वितरित किए थे। अब फिर से संकट आया तो मानवता की मदद को फिर निकल पड़ा। उन्होंने बताया कि पूरा भोजन मेरी मां घर पर ही तैयार करती हैं। भोजन पकाने में पड़ोसी, परिजन और दोस्त सहायता करते हैं। मेरा कार्य सूखा राशन और सब्जी लाने का रहता है। इसके बाद भोजन बनने के बाद उसे वितरित करने का। पिछले 12 दिनों से लगातार जरूरतमंदों को भोजन वितरित किया जा रहा है। भोजन बनाते समय स्वच्छता और स्वाद का भरपूर खयाल रखा जाता है। 

हमारे पहुंचते ही तुरन्त एकत्रित होते हैं जरूरतमंद 


बुलचंदानी ने बताया कि वे यह खाना सांगानेर, मानसरोवर, दुर्गापुरा, न्यू सांगानेर रोड सहित कई जगहों पर जरूरतमंद परिवारों को देते हैं। कई दिनों से भोजन पैकेट बांटने से आस-पास के जरूरतमंद जानने लग गए हैं। हमारी टीम के वहां पहुंचने पर सभी लोग हमारे पास आ जाते हैं। हम कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सभी को बारी-बारी से भोजन पैकेट देते हैं। भोजन पैकेट में चार रोटी, सब्जी, और चावल होते हैं। साथ ही करीब 100 पैकेट एसएमएस में कोरोना परिजनों को वितरित करते हैं। मेरा मानना है कि धन से बढ़कर आपके साथ किसी को मन होना ज्यादा श्रेयस्कर है। क्योंकि, कोई भी कार्य अच्छी टीम के बिना नहीं हो पाता है। इसलिए युवा एकता मंच की पूरी टीम की बदौलत ही हम यह सेवा कार्य कर पा रहे हैं। 

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर बाजार में पटाखे की चिंगारी कहर बनकर टूटी