सीबीएसई और यूपी बोर्ड ने रद्द किए 10 वीं एग्जाम, राजस्थान सरकार भी करे जल्द घोषणा

 - देशभर के 40 से अधिक अभिभावक संगठन संयुक्त रूप से राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और केन्द्रीय शिक्षा मंत्री को सोमवार को देंगे ज्ञापन


जस्ट टुडे
जयपुर। सीबीएसई बोर्ड कक्षा 10 वीं की पहले ही परीक्षा रद्द कर चुका है, अब उत्तर प्रदेश सरकार ने 10 वीं बोर्ड एग्जाम रद्द कर सभी बच्चों को प्रमोट करने का निर्णय लिया है। यूपी सरकार की घोषणा के बाद एक बार फिर राजस्थान में भी 10 वीं और 12 वीं बोर्ड एग्जाम रद्द करने की मांग उठी है। सीबीएसई बोर्ड की 12 वीं कक्षा के एग्जाम को रद्द करने की मांग को लेकर सोमवार को देशभर में 40 से अधिक अभिभावक संगठन संयुक्त रूप से राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और केन्द्रीय शिक्षा मंत्री को ज्ञापन भी देंगे। 

बच्चों में बढ़ रहा तनाव

संयुक्त अभिभावक संघ प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक जैन बिट्टू ने कहा कि राजस्थान सरकार 10 और 12 वीं बोर्ड एग्जाम को रद्द करने में लगातार देरी कर रही है, जिसके चलते बच्चे लगातार तनावग्रस्त माहौल के शिकार हो रहे हैं। हालांकि, यूपी सरकार ने केवल 10 वीं बोर्ड एग्जाम ही रद्द किया है, लेकिन, उसके इस निर्णय से साफ है कि सरकारें परीक्षा करवाने को लेकर जल्दीबाजी नहीं दिखा रही हैं, उन्हें भी डर है कही निर्णय उल्टा पड़ गया तो देश और अभिभावक इनको कभी भी माफ नहीं करेंगे। 

देश में मिसाल कायम करे राजस्थान सरकार

अभिषेक जैन ने पुन: राजस्थान सरकार से मांग की है कि वर्तमान कोरोना परिस्थितियों और तीसरी लहर को ध्यान में रखकर राज्य माध्यमिक बोर्ड की कक्षा 10 और 12 वीं के एग्जाम रद्द कर पूरे देश में मिसाल कायम करे और सभी राज्यों की सरकारों सहित केंद्र सरकार से सीबीएसई बोर्ड एग्जाम रद्द करने की मांग करें, खुद कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी और छात्र संगठन एनएसयूआई 12वीं बोर्ड एग्जाम को रद्द करने की मांग कर रहे हैं। 

Popular posts from this blog

सांगानेर में उचित मूल्य की दुकानों पर व्यवस्था नहीं उचित

सांगानेर से फिर एक बार पुष्पेन्द्र भारद्वाज

सांगानेर में 13 ने लिया नाम वापस, अब 37 प्रत्याशी मैदान में