सांगानेर भाजपा मंडल में फिर उठा बवंडर

- सांगानेर भाजपा मण्डल की नई कार्यकारिणी घोषित...भाजपा कार्यकर्ताओं में भारी आक्रोश
- कार्यकारिणी में वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ताओं की अनदेखी का लगाया आरोप, वसुंधरा समर्थकों को भी नहीं मिली नई कार्यकारिणी में जगह
- सोशल मीडिया पर छाया...सांगानेर भाजपा कार्यकारिणी में फिर लक्ष्मी की रही माया 

जस्ट टुडे
जयपुर।
सांगानेर भाजपा मंडल में निकाय चुनाव से शुरू हुआ 'दंगल' अब मंडल कार्यकारिणी की घोषणा के बाद 'बवंडर' बन गया है। वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ताओं ने नई कार्यकारिणी को लेकर सोशल मीडिया पर मंडल अध्यक्ष और विधायक के खिलाफ 'वॉर' छेड़ दी है। वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि सांगानेर मंडल की नई कार्यकारिणी में भाजपा के मूल कार्यकर्ताओं की अनदेखी की गई है, वहीं भारत वाहिनी और कांग्रेस के पदाधिकारियों को इस टीम में जगह दी गई है। कई कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर पैसे खाकर कार्यकारिणी बनाने का आरोप लगाया है। कई कार्यकर्ताओं ने कहा कि मंडल अध्यक्ष की चापलूसी करने वालों को कार्यकारिणी में जगह दी गई है। वहीं भाजपा कार्यकर्ताओं का कहना है कि कार्यकारिणी में निष्क्रिय लोगों को शामिल किया गया है, वहीं सक्रिय कार्यकर्ताओं को वरीयता नहीं दी गई है। भाजपा कार्यकर्ताओं का कहना है कि अगले विधानसभा चुनावों में इसका खमियाजा भाजपा को सांगानेर की सीट गंवाकर चुकाना पड़ेगा। भाजपा से करीब 20 वर्षों से अधिक समय तक जुड़े रहने वाले कार्यकर्ताओं का कहना है कि इस टीम में वसुंधरा समर्थकों को भी तरजीह नहीं दी गई है। इस टीम के लोगों ने पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को इसकी शिकायत कर दी है। राजे ने उन्हें दिल्ली में आलाकमान से इस मुद्दे पर बात करने का आश्वासन दिया है। इससे साफ हो गया है कि सांगानेर में भाजपा कार्यकर्ताओं में भारी असंतोष है। निकाय चुनाव में इसका परिणाम पार्टी देख ही चुकी है। अब विधानसभा चुनावों पर भी इसकी छाया दिखना स्वाभाविक है। 

जाट, सिन्धी और यादव समाज की हुई है उपेक्षा

सांगानेर मण्डल की जो नई कार्यकारिणी बनाई है, ये सभी भारत वाहिनी के चले हुए कारतूस हैं। कार्यकारिणी में भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं की अनदेखी की गई है। इसमें भारत वाहिनी के लोगों को वरीयता दी गई है। विधायक और मंडल अध्यक्ष ने इसमें जाट समाज, सिन्धी समाज और यादव समाज की अनदेखी की है। निकाय चुनाव में पार्टी इसका परिणाम भुगत चुकी है, मंडल के 10 वार्डों में से 8 वार्डों में पार्टी का सूपड़ा साफ हो गया। अब विधानसभा चुनावों में भी पार्टी जीरो पर पहुंच जाएगी।
- त्रिलोक चौधरी, वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता, सांगानेर मंडल

नई कार्यकारिणी से बढ़ेगा कांग्रेस का वोट बैंक

सांगानेर भाजपा मंडल की नई कार्यकारिणी कांग्रेस के लिए फायदेमंद होगी। 2023 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के वोट बैंक में जबरदस्त उछाल आएगा। पुराने कार्यकर्ताओं की अनदेखी करना भाजपा पार्टी के लिए नुकसानदायक साबित होगी। पुराने कार्यकर्ताओं को साइड में करते हुए नई कार्यकारिणी गठित करके पैसे कमाने का नया तरीका ढूंढ लिया है। - मदन सिंह राजावत, वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता, सांगानेर मंडल

20 वर्षों से निष्ठावान कार्यकर्ता...हुआ विश्वासद्यात
20-21 साल से भाजपा से पूरी निष्ठा से जुड़े हुए हैं। पद का लालच देकर हम जैसे कार्यकर्ताओं का इस्तेमाल ही किया है। भाजपा से पिछले एक साल से जुड़े लोगों को कार्यकारिणी में शामिल कर लिया और 20 वर्षों से अधिक समय से जुड़े कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की गई है। मुझे कार्यकारिणी में शामिल करने का आश्वासन दे रखा था, लेकिन, मेरे साथ विश्वासद्यात किया गया है। मेरे साथ कई भाजपा कार्यकर्ता हैं, जिनकी भावनाएं आहत हुई हैं। हम पुतला दहन करके अपना विरोध दर्ज कराएंगे।
  - मंगल चौहान, वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता, सांगानेर मंडल

कांग्रेस और भारत वाहिनी का प्रचार करने वालों को मिली टीम में जगह

इस कार्यकारिणी में वसुंधरा राजे समर्थकों की पूरी तरह से उपेक्षा की गई है। मैं पिछले 20 वर्षों से भाजपा से जुड़ा हुआ हूं। क्या वसुंधरा राजे भाजपा से नहीं हैं। इस कार्यकारिणी में उन लोगों को शामिल किया गया है, जिन्होंने विधानसभा चुनावों में कांग्रेस और भारत वाहिनी का प्रचार किया गया था। सक्रिय भाजपा कार्यकर्ताओं की अनदेखी की गई है, वहीं निष्क्रिय कार्यकर्ताओं को पद दे दिया गया है। मैंने अपना विरोध विधायक और जयपुर शहर अध्यक्ष तक पहुंचा दिया है। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे तक भी उनके समर्थकों की अनदेखी की शिकायत कर दी है। राजे ने दिल्ली में आलाकमान से इस बारे में बात करने को कहा है। - अशोक शर्मा, वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता, सांगानेर मंडल

केंद्र में भाजपा के साथ, सांगानेर विधानसभा में, मैं आजाद

इस कार्यकारिणी में वसुंधरा राजे समर्थकों को नजरअंदाज किया गया है। मुझे कार्यकारिणी में शामिल नहीं करने के तीन कारण बताए थे। उनमें पहला बताया गया कि वसुंधरा समर्थक टीम से जुड़े हुए हो, आप सांगानेर से बाहर के हो, आपके पास सक्रिय सदस्य की रसीद नहीं है। मंडल अध्यक्ष के साथ मैंने सांगानेर में भाजपा को मजबूत करने का काम किया। मुझे कार्यकारिणी में पद देने का वादा किया था।  दूसरा जब सक्रिय सदस्य की रसीद काटी गई थी, तब मैं पारिवारिक कारणों के चलते अपने गृह नगर करौली गया था, वहां से करीब 15 दिनों में आया, तब तक रसीद कार्यक्रम बंद हो चुका था। लेकिन, भाजपा की राष्ट्रीय सदस्यता सूची में मेरा नाम है, इसका सबूत भी मेरे पास है। इस कार्यकारिणी में से कुछ ही लोग सक्रिय है। काफी लोगों को तो मैं जानता भी नहीं हूं। मुझे आश्चर्य हुआ है कि सांगानेर मंडल की ऐसी टीम बनी है। 10 में से 8 वार्ड हारकर भाजपा टूट तो पहले ही गई थी, अब इस कार्यकारिणी की घोषणा के बाद यह बिखर भी गई है। सांगानेर मंडल के करीब 7 वरिष्ठ लोगों को इसमें जगह मिलनी चाहिए थी। केंद्र मैं भाजपा के साथ हूं, विधानसभा में मैं आजाद हूं। - भगवान सिंह जादौन, वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता, सांगानेर मंडल

चमचागिरी करने वालों को बांटे पद

सांगानेर मंडल की कार्यकारिणी में जमकर फर्जीवाड़ा हुआ है। पुराने कार्यकर्ताओं की अनदेखी की गई है। चमचागिरी करने वालों को पद बांटे गए हैं। रामपुरा रोड के कई कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज किया गया है। इसमें कई लोग ऐसे हैं, जिन्होंने आज तक पार्टी के लिए कोई काम नहीं किया है। वहीं भाजपा के लिए पूरी तरह समर्पित कार्यकर्ताओं की अनदेखी की गई है। हम इस कार्यकारिणी का पूरा विरोध करता हूं।
- धर्मेन्द्र शर्मा, वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता, सांगानेर मंडल

नई कार्यकारिणी मंडल को प्रदान करेगी नए आयाम

संगठन का निर्णय सर्वोपरि है। सांगानेर मण्डल की नई कार्यकारिणी के सदस्य निश्चित रूप से संगठन को आगे बढ़ाएंगे। जिन पदाधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है, वे गंभीरता के साथ सांगानेर मण्डल को नए आयाम प्रदान करेंगे। सभी पदाधिकारियों को हार्दिक शुभकामनाएं। - एडवोकेट टीकम शर्मा, वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता, सांगानेर मंडल

नई कार्यकारिणी के कई सदस्यों का पहली बार सुना नाम
मंडल की नई कार्यकारिणी में पुराने कार्यकर्ताओं को जगह नहीं दी गई है। आगामी विधानसभा चुनावों में अब ये लोग ही भाजपा को जिताएंगे। हम जैसे वरिष्ठ कार्यकर्ता यदि पार्टी की नजर में कोई अहमियत नहीं रखते हैं तो फिर नई टीम ही भाजपा को सांगानेर से जिताएगी। इस कार्यकारिणी में से ज्यादातर को तो मैं जानती ही नहीं हूं।
- नवरतन छीपा, वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता, सांगानेर मंडल

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार