सड़क पर पानी भरने से व्यापारियों ने किया रामपुरा रोड़ जाम...

- जेडीए एवं नगर निगम के अधिकारी नहीं कर रहे सुनवाई



जस्ट टुडे                                                                जयपुर। सांगानेर रामपुरा रोड़ पर पानी की निकासी नहीं होने से बार-बार सड़क के क्षतिग्रस्त होने से व्यापारियों ने रोड जाम कर दिया। रामपुरा रोड़ व्यापार मंडल के उपाध्यक्ष दिलीप सिंह कांवट ने बताया कि पानी की निकासी नहीं होने की वजह से सड़क पर पानी जमा होकर सड़क बार-बार क्षतिग्रस्त हो रही है जिससे रोजाना दुपहिया वाहन चालक गिरकर चोटिल हो रहे हैं। सड़क पर पानी भरने से ग्राहकों की आवाजाही बंद हो रही है जिससे रोड का पूरा व्यापार बंद पड़ा है। रोड पर पानी की निकासी के लिए जेडीए एवं नगर निगम के अधिकारियों को कई बार कहा परंतु उन्होंने आश्वासन के सिवाय कुछ नहीं किया।

सरकार पर लगाया काम नहीं करने का आरोप...



रामपुरा रोड़ व्यापार मंडल के अध्यक्ष सीताराम मीणा ने बताया कि 1 दिसंबर को भी रोड जाम कर जल सत्याग्रह किया गया था। उस वक्त कांग्रेस नेता पुष्पेंद्र भारद्वाज एवं क्षेत्र के वार्ड 83 के पार्षद शंकर बारडोलिया, वार्ड 91 के पार्षद आशीष परेवा ने जेडीए के अधिकारियों को मौके पर बुलवाकर समस्या का 1 महीने में समाधान करने का आश्वासन दिया था, परंतु 1 महीने से अधिक समय बीतने के बाद भी जेडीए के द्वारा रोड की कोई सुध नहीं ली गई। व्यापार मंडल के द्वारा बार-बार समस्या से अवगत करवाने पर अब जेडीए के अधिकारी अप्रैल के बाद में ही काम शुरू करने की बात कह रहे हैं।

समझाइश पर माने व्यापारी...



रोड जाम की सूचना पर मुहाना मंडी थाना इंचार्ज लाखन सिंह खटाना ने मौके पर पहुंचने पर नगर निगम एवं जेडीए के अधिकारियों से बात कर समस्या का शीघ्र समाधान करने के आश्वासन के बाद व्यापारियों को समझाइश कर रास्ते को खुलवाया।

शीघ्र शुरू करवाएंगे सड़क और नाली का निर्माण कार्य...

कांग्रेस नेता पुष्पेंद्र भारद्वाज ने बताया कि जेडीए में फाइल फाइनल स्टेज पर है। शीघ्र ही रामपुरा फाटक से केसर चौराहे तक सड़क एवं नाली का निर्माण कार्य चालू करवाकर समस्या को हमेशा के लिए दूर किया जाएगा।

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार