व्यापार महासंघ, सांगानेर में फूट पर व्यापारी हुए 'एकजुट'

  सांगानेर के लिए मंगल लेकर आया मंगलवार 

- दलगत राजनीति से ऊपर उठकर दोनों व्यापार महासंघ के पदाधिकारियों ने बाजार में विकास को दी प्राथमिकता, कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज का किया भव्य स्वागत

- कांग्रेस नेता ने व्यापारियों की समस्याओं के शीघ्र निस्तारण का दिया आश्वासन

- व्यापार महासंघ, सांगानेर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष ने कहा कि वर्तमान अध्यक्ष को जल्द हटाएंगे




जस्ट टुडे
जयपुर।
 सांगा बाबा की नगरी सांगानेर में मंगलवार का दिन मंगल लेकर आया। वर्षों से भाजपा-कांग्रेस की राजनीति में 'उलझे' हुए व्यापारी मंगलवार को 'सुलझे' हुए दिखाई दिए। मंगलवार को सांगानेर बाजार में कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज व्यापारियों की समस्याओं के निराकरण के लिए आए। इस दौरान सांगानेर व्यापार महासंघ के पूर्व अध्यक्ष राधेश्याम डंगायच, अध्यक्ष शंकर आंकड़ तो वहीं व्यापार महासंघ,सांगानेर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष उत्तमचंद बच्चानी, उपाध्यक्ष रामजीलाल शर्मा, उपाध्यक्ष धन्नालाल चतरानी सहित कई पदाधिकारी भी मौजूद थे। सांगानेर में यह संभवत: पहला मौका है, जब दोनों व्यापार महासंघ, व्यापारियों की समस्याओं के लिए एकजुट हो गए। इससे पहले व्यापार महासंघ, सांगानेर सिर्फ भाजपा और सांगानेर व्यापार महासंघ सिर्फ कांग्रेस के नेताओं का ही स्वागत किया करते थे। सांगानेर में यह बदलाव की बयार व्यापारियों के लिए तो नई सुबह की तरह ही है। सांगानेर में मंगलवार को व्यापारियों ने राजनीति को हरा दिया और व्यापारियों को जिता दिया। 

व्यापारियों की समस्याओं पर एक हुए दोनों व्यापार महासंघ



सांगानेर मुख्य बाजार में मंगलवार को कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज आए। उनके साथ बड़ी संख्या में सांगानेर के व्यापारी भी साथ थे। ढोल-नगाड़ों की थाप पर जगह-जगह व्यापारियों ने उनका भव्य स्वागत किया। व्यापारियों ने भी राजनीति से ऊपर उठकर कांग्रेस नेता का तहेदिल से स्वागत किया। इसके बाद व्यापार महासंघ, सांगानेर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष उत्तमचंद बच्चानी ने कांग्रेस नेता को व्यापार महासंघ, सांगानेर की ओर से व्यापारियों की समस्याओं के सम्बंध में ज्ञापन भी सौंपा।  कांग्रेस नेता ने सभी समस्याओं का शीघ्र निस्तारण करने का आश्वासन दिया। 

कांग्रेस नेता का किया भव्य स्वागत


इसके बाद उत्तमचंद बच्चानी के प्रतिष्ठान पर कांग्रेस नेता का स्वागत किया गया। इस दौरान उनके साथ सांगानेर व्यापार महासंघ के पूर्व अध्यक्ष राधेश्याम डंगायच, अध्यक्ष शंकर आंकड़ और व्यापार महासंघ, सांगानेर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष उत्तमचंद बच्चानी, उपाध्यक्ष रामजीलाल शर्मा, उपाध्यक्ष धन्नालाल चतरानी, राजेश नाजवानी, रेडीमेड गारमेंट व्यापार महासंघ, सांगानेर के अध्यक्ष दीपक सावनानी सहित कई पदाधिकारी मौजूद थे। 

जस्ट टुडे ने हमेशा की व्यापारियों के हित की बात

सांगानेर व्यापार महासंघ के पूर्व अध्यक्ष राधेश्याम डंगायच और व्यापार महासंघ, सांगानेर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष उत्तमचंद बच्चानी ने बताया कि ज्ञापन में बाजार में लगी सभी डीपी और बिजली पोल को डिवाइडर पर लगाने की मांग की गई है। बाजार में पार्किंग की समुचित व्यवस्था की जाए। साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। तहसील कार्यालय को बाजार से हटाकर कहीं और स्थानांतरित किया जाए। सांगानेर बाजार को आदर्श बाजार बनाया जाए। दोनों महासंघों के पदाधिकारियों ने बताया कि उन पर किसी पार्टी का ठप्पा नहीं है। जो व्यापारियों के विकास की बात करेगा, व्यापारी भी उसे भी समर्थन करेगा। दोनों महासंघों ने कांग्रेस नेता को जिन समस्याओं के लिए ज्ञापन दिया है, जस्ट टुडे लगातार इन सभी समस्याओं को प्रकाशित कर चुका है। जस्ट टुडे ने अभी हाल ही में दोनों व्यापार महासंघों के एक होने और सांगानेर बाजार को आदर्श बाजार बनाने को लेकर भी कई खबरें प्रकाशित की हैं। इसके बाद सांगानेर के व्यापारी भी दलगत राजनीति को भूलकर व्यापारियों के विकास की बात पर धीरे-धीरे एकमत हो रहे हैं। 

व्यापार महासंघ सांगानेर में ऐसे चला नाटकीय घटनाक्रम

इससे पहले व्यापार महासंघ, सांगानेर में नाटकीय घटनाक्रम भी चला। व्यापार महासंघ, सांगानेर की ओर से व्हाट्सएप पर मीडिया प्रभारी पुरुषोत्तम बच्चानी की ओर से एक मैसेज भी डाला गया था। इसमें लिखा हुआ था कि कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज मंगलवार को सांगानेर बाजार में सभी व्यापारियों से शिष्टाचार मुलाकात करेंगे। साथ ही सांगानेर बाजार की सभी समस्याओं का निराकरण भी करेंगे। इस मैसेज में व्यापार महासंघ, सांगानेर के अध्यक्ष शिवराज सोनी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष उत्तमचंद बच्चानी का भी नाम था। इस मैसेज से यह प्रतीत हो रहा था कि इस कार्यक्रम में अध्यक्ष शिवराज सोनी की भी अनुमति है। लेकिन, कुछ ही देर बाद अध्यक्ष शिवराज सोनी की ओर से व्हाट्सएप पर एक मैसेज डाला गया। इसमें लिखा हुआ था कि व्यापार महासंघ, सांगानेर के नाम से जो मैसेज व्हाट्सएप ग्रुप पर जारी किया गया है, उससे व्यापार महासंघ, सांगानेर का कोई भी लेना-देना नहीं है। उन्होंने सफाई दी कि मैसेज में मेरे नाम का इस्तेमाल भी मुझसे पूछे बगैर किया गया है। 

लैटर हैड पर मेरे हस्ताक्षर नहीं: शिवराज सोनी

व्हाट्स एप पर हुए मैसेज वॉर को लेकर जस्ट टुडे ने व्यापार महासंघ, सांगानेर के अध्यक्ष शिवराज सोनी से बात की। इस पर उन्होंने बताया कि हम लैटर हैड देने के लिए किसी भी पदाधिकारी को मना नहीं करते हैं। व्हाट्सएप पर व्यापार महासंघ, सांगानेर की ओर से जो मैसेज चल रहा है, उसमें हमारे व्यापार महासंघ का कोई भी लेना-देना नहीं है। लैटर हैड पर भी मेरे हस्ताक्षर नहीं है। इस मैसेज से हमारे व्यापार महासंघ में कोई भ्रम ना फैले, इसलिए मैंने इसका खंडन करते हुए व्हाट्स एप पर मैसेज भी चला दिया है। 


अध्यक्ष ने पहले दे दी थी सहमति फिर लिया यू-टर्न: उत्तमचंद बच्चानी


इसके बाद जस्ट टुडे ने व्यापार महासंघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष उत्तमचंद बच्चानी से बात की। इस पर उन्होंने बताया कि सोमवार को मेरे प्रतिष्ठान पर व्यापार महासंघ, सांगानेर के संरक्षक त्रिलोक चौधरी, अध्यक्ष शिवराज सोनी, उपाध्यक्ष रामजीलाल शर्मा मौजूद थे। इस पर मैंने सभी से कहा कि सांगानेर बाजार के विकास के लिए कांग्रेस नेता पुष्पेन्द्र भारद्वाज को बुलाना है। इस पर सभी ने कांग्रेस नेता को बुलाने पर सहमति प्रदान कर दी। संरक्षक त्रिलोक चौधरी ने यह कहा था कि मैं मंगलवार को कहीं बाहर जा रहा हूं, इसलिए कार्यक्रम में नहीं आ पाऊंगा। उपाध्यक्ष रामजीलाल ने कहा कि जब कांग्रेस नेता आ जाएं तो मुझे बुलवा लेना। वहीं अध्यक्ष शिवराज सोनी ने कहा कि हम सभी को तो बाजार का विकास करवाना है। मैं आपको लैटर हैड दे दूंगा और मैं स्वयं कांग्रेस नेता को ज्ञापन दे दूंगा। इसके बाद मंगलवार को सुबह मैं स्वयं अध्यक्ष शिवराज सोनी से लैटर हैड लेकर आया हूं। तब अध्यक्ष शिवराज सोनी ने कहा था कि कांग्रेस नेता को बस स्टैण्ड पर क्यों बुला रहे हो, मुख्य बाजार में ही बुलवा लो। इस पर मैंने कहा कि कांग्रेस नेता को बस स्टैण्ड से लेकर मुख्य बाजार तक आएंगे। अध्यक्ष शिवराज सोनी ने कहा कि लैटर हैड पर टाइप आप करवा लेना। जब अध्यक्ष शिवराज सोनी ने मौखिक सहमति दे दी तो फिर मैंने व्हाट्स एप पर मैसेज चलवा दिया था। इसके बाद अध्यक्ष शिवराज सोनी अपनी बात से मुकर गए और कार्यक्रम में नहीं आए। मैंने सांगानेर बाजार में व्यापार महासंघ, सांगानेर की इज्जत रखी है। वरिष्ठ उपाध्यक्ष उत्तमचंद बच्चानी ने कहा कि व्यापार महासंघ, सांगानेर किसी एक पार्टी का नहीं है। यह स्वतंत्र था और हमेशा स्वतंत्र रहेगा। व्यापारी और बाजार का जो विकास करेगा, व्यापार महासंघ उसी के साथ होगा। जो राजनीति में नहीं उलझे, उसे ही असल मायने में व्यापार महासंघ कहते हैं। उन्होंने कहा कि सांगानेर बाजार में दोनों व्यापार महासंघ अब व्यापारियों की समस्याओं पर एकजुट ही रहेंगे। उत्तमचंद बच्चानी ने यह भी कहा कि शीघ्र ही व्यापार महासंघ, सांगानेर के अध्यक्ष को बदला जाएगा। 

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार