जयपुर ग्रेटर में इतना हुआ मतदान

- जयपुर ग्रेटर, जोधपुर दक्षिण और कोटा दक्षिण नगर निगम के 19 लाख से ज्यादा मतदाता चुनेंगे 'शहरी सरकार'


- तीनों निगमों में मिलाकर 1287 उम्मीदवार हैं चुनाव मैदान में


जस्ट टुडे
जयपुर। प्रदेश में शहरी सरकार चुनने के लिए मतदाता बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। दूसरे चरण के निकाय चुनाव के तहत रविवार को जयपुर गे्रटर, जोधपुर दक्षिण और कोटा दक्षिण के चुनाव हो रहे हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के मुताबिक रविवार सुबह 10 बजे तक तीनों निकायों में 16.66 फीसदी मतदान हुआ। सबसे कम जयपुर गे्रटर निगम में 15.76 प्रतिशत मतदान हुआ। वहीं जोधपुर दक्षिण में 18.27 और कोटा दक्षिण में 18.12 फीसदी मतदान हुआ। तीनों निगमों में सबसे ज्यादा वार्ड जयपुर ग्रेटर में 150 हैं। 


पहले चरण से बेहतर मतदान की उम्मीद


प्रथम चरण में जयपुर हैरिटेज में 57.82, कोटा उत्तर में 65.12 और जोधपुर उत्तर में 62.64 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था। चुनाव आयुक्त पीएस मेहरा ने कहा कि दूसरे चरण में उन्हें शहरों के मतदाताओं से पहले चरण से बेहतर मतदान की उम्मीद है। उन्होंने आह्वान किया कि मतदाता सभी कामों को छोड़ मतदान को सर्वोच्च प्राथमिकता पर रख मतदान के लिए निकलें।


दूसरे चरण में 19 लाख  से ज्यादा मतदाता कर सकेंगे मतदान

मेहरा ने बताया कि दूसरे चरण में 310 वार्डों के 3211 मतदान केंद्रों पर 19 लाख 45 हजार 575 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। इसमें जयपुर ग्रेटर के 150 वार्डों के 12 लाख 29 हजार 202 मतदाताओं में 6 लाख 45 हजार 388 पुरुष, 5 लाख 83 हजार 801 महिला व 13 अन्य, जोधपुर दक्षिण के 80 वार्डों के 3 लाख 40 हजार 56 मतदाताओं में से 1 लाख 76 हजार 6 पुरुष, 1 लाख 64 हजार 46 महिला व 4 अन्य और कोटा दक्षिण के 80 वार्डों के 3 लाख 76 हजार 317 मतदाताओं में से 1 लाख 93 हजार 984 पुरुष, 1 लाख 82 हजार 329 महिला व 4 अन्य मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे।
 
310 वार्डों के 1287 उम्मीदवार मैदान में


चुनाव आयुक्त ने बताया कि जयपुर ग्रेटर के 150, जोधपुर दक्षिण के 80 और कोटा दक्षिण के 80 कुल 310 वार्डों के लिए मतदान होगा। उन्होंने बताया कि जयपुर में 686, जोधपुर में 312 और कोटा में 289 और कुल 1287 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला रविवार को मतदाता करेंगे। दूसरे चरण में 3211 मतदान केंद्रों पर मतदान करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए मतदान केंद्रों की संख्या में भी इजाफा किया गया है और मतदान समय को भी आधा घंटा अधिक बढ़ाया है ताकि मतदाता भीड़ का हिस्सा बने बिना अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकें।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार