जयपुर हैरिटेज में सबसे कम 57.82 प्रतिशत मतदान

नगर निगम चुनाव-2020 : ‘शहरी सरकार‘ के चुनाव के लिए प्रथम चरण में 60.42 मतदाताओं ने किया मतदान


- चुनाव आयुक्त ने ‘सुरक्षित‘ और शांतिपूर्ण मतदान के लिए मतदाताओं के प्रति जताया आभार


जस्ट टुडे
जयपुर।
प्रदेश की जयपुर हैरिटेज, जोधपुर उत्तर और कोटा उत्तर की नगर निगमों में प्रथम चरण के लिए हुए मतदान में 60.42 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। सर्वाधिक मतदान कोटा उत्तर नगर निगम में हुआ, जहां 65.12 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले।



राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त पीएस मेहरा ने कोरोना के सभी प्रोटोकॉल की पालना करते हुए मतदान के लिए मतदाताओं का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि मतदाताओं के सहयोग से और संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारियों, पुलिस अधिकारियों और निर्वाचन कार्य से जुड़े समस्त कार्मिकों के समर्पण की भावना से तीनों नगर निगमों में प्रथम चरण के चुनाव सफलतापूर्वक संपन्न हो सके हैं। उन्होंने सकारात्मक सहयोग के लिए मीडिया के प्रति भी हार्दिक आभार व्यक्त किया।


आयुक्त ने बताया कि तीनों नगर निगमों में शहरी सरकार चुनने के लिए मतदाताओं ने पूरे जोश और उत्साह के साथ मतदान किया। उन्होंने बताया कि जयपुर हैरिटेज में 57.82 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया। वहीं कोटा उत्तर 65.12 में और जोधपुर उत्तर में 62.64 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। 


9 लाख 99 हजार 691 मतदाताओं ने किया मताधिकार का इस्तेमाल

मेहरा ने बताया कि प्रथम चरण में 250 वार्डों के 2761 मतदान केंद्रों पर 16 लाख 54 हजार 592 मतदाताओं में से 9 लाख 99 हजार 691 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। गौरतलब है कि दूसरे चरण में जयपुर ग्रेटर, जोधपुर दक्षिण और कोटा दक्षिण में मतदान 1 नवंबर को होगा, जबकि मतगणना 3 नवंबर को प्रातः 9 बजे से होगी।


यूं बढ़ता गया मतदान का प्रतिशत

मेहरा ने बताया कि तीनों शहरों में सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना प्रोटोकॉल के साथ मतदान प्रारंभ हुआ। सुबह 10 बजे तक तीनों नगर निगमों में 18.30 प्रतिशत मतदान हुआ। दोपहर 1 बजे मतदान का प्रतिशत 38.75 तक पहुंच गया। दोपहर 3 बजे तक प्रतिशत 49.46 तक जा पहुंचा और शाम बजे 5.30 बजे 58.96 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। मतदान समाप्ति के बाद कुल 60.42 फीसद मतदान दर्ज हुआ।


पिछले चुनावों में तीनों शहरों का मतदान प्रतिशत

गौरतलब है कि जयपुर में 2014 में हुए नगर निगम चुनाव में 60 प्रतिशत, 2009 में 51.80 प्रतिशत मतदान हुआ था। इसी तरह जोधपुर में 2014 में 63 और 2009 में 58.53 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले थे। वहीं कोटा में 2014 में 67 प्रतिशत तो 2009 में 60.53 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था। वर्तमन चुनाव की तुलना में पहले 3 नगर निगम हुआ करते थे, जबकि अब प्रत्येक नगर निगम को दो भागों में बांटा जा चुका है।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार