सांगानेर में अयोध्या सा नजारा

जस्ट टुडे की लाइव कवरेज 


- श्रीराम अब टाट में नहीं मंदिर में रहेंगे ठाठ से, सांगानेर मुख्य बाजार में राममंदिर निर्माण की खुशी में रामभक्तों ने मनाया उत्सव


जस्ट टुडे
जयपुर। त्रेतायुग में रावण को मारने के लिए भगवान श्रीराम को राजगद्दी छोड़कर 14 वर्ष का वनवास भोगना पड़ा था।
वहीं कलियुग में करीब 492 वर्ष के वनवास के बाद श्रीराम को अब मन्दिर निर्माण के रूप में आधार मिला है। बुधवार को अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, संघ प्रमुख मोहन भागवत, उत्तरप्रदेश के सीएम आदित्यनाथ योगी, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सहित कई लोग उपस्थित थे। अयोध्या सहित पूरे देश में बुधवार को दीपावली जैसा उत्सव था। छोटी काशी के नाम से विख्यात जयपुर के सांगानेर भी अयोध्या की ही तरह लग रही थी। सांगानेर से जस्ट टुडे की ग्राउण्ड रिपोर्ट- 


151 दीपों से सजाई रामचौकी



सांगानेर स्थित मुख्य बाजार तिराहे पर रामभक्तों ने भगवान श्रीराम की प्रतिमा को माला, फूलों से सजा रखा था। सुगन्धित अगरबत्तियों की मोहक खुशबू से वातावरण प्रसन्नचित्त हो रखा था। 151 दीपों से राम चौकी आकाश में अलौकिक प्रकाश पुंज पैदा कर रही थीं। राम भक्तों के जयकारे और उद्घोष शंख की भांति मधुर ध्वनि उत्पन्न कर रहा था। म्यूजिक सिस्टम पर धीरे-धीरे राम भजनों पर हर कोई मदमस्त था। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए रामभक्तों ने संध्या वेला पर भगवान श्रीराम की विधि-विधान से पूजा-अर्चना की। 


इन्होंने उतारी भगवान की आरती



व्यापार महासंघ, सांगानेर के अध्यक्ष शिवराज सोनी, संरक्षक त्रिलोक चौधरी ने भगवान श्रीराम की पूजा-अर्चना की विधिवत् शुरुआत की। इन दोनों ने सर्वप्रथम भगवान की आरती उतारी।


इसके बाद व्यापार महासंघ के महामंत्री ओमप्रकाश शर्मा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष उत्तमचंद बच्चानी, उपाध्यक्ष रामजीलाल शर्मा, प्रचार मंत्री घनश्याम साहू, रामभक्त टीमकचंद शर्मा, अनिल पारीक, भगवान सिंह जादौन, संजय मनोहर शर्मा, राम शर्मा सहित कई रामभक्तों ने पूजा-अर्चना की। 


शान्ति व्यवस्था के लिए पुलिस थी मौजूद


इस दौरान शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए मालपुरा थाना इंचार्ज नेमीचंद पुलिसकर्मियों के साथ मौके पर मौजूद थे। उन्होंने सभी से शान्तिपूर्वक जल्द कार्यक्रम करने को कहा। पूजा-अर्चना करने के बाद रामभक्त भी अपने-अपने घर चले गए। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार