सांगानेर में डिप्टी ऑफिस के सामने से बाइक चोरी...सुराग नहीं 

- बाइक चोरी हुए 4 दिन बीते...अभी तक पुलिस के हाथ रीते, सीसीटीवी खराब...कैद नहीं हो पाया चोर


जस्ट टुडे
जयपुर। भले ही पुलिस ने 'आमजन में विश्वास और अपराधियों में खौफ' को ध्येय वाक्य बना रखा है। लेकिन, असलियत में ऐसा नहीं है। सांगानेर में अपराधियों को पुलिस का कोई भय नहीं है। यह हम नहीं कह रहे बल्कि चोरों के बुलंद हौसले इस बात को प्रमाणित कर रहे हैं। सांगानेर सर्किल के पास स्थित डिप्टी ऑफिस के सामने से बाइक चोरी करके चोरों ने पुलिस की खिल्ली उड़ाने का काम किया है। दिलचस्प पहलू यह है कि बाइक चोरी हुए चार दिन बीत गए, अभी तक ना तो बाइक मिली और ना ही चोर। हालांकि, पुलिस मामले की जांच कर रही है। 


यह है पूरा मामला  



फोटो : प्रतीकात्मक

सांगानेर में बगरेटों का मोहल्ला निवासी बाबू खां ने बताया कि 27 जुलाई को सांगा सर्किल के पास स्थित वीरेन्द्र टॉवर में बेटे को जूते दिलाने गया था। वहां सामने ही बाइक खड़ी कर दी। बेटा जूते खरीदने टॉवर में अंदर चला गया। जबकि बाबू खां सांगा सर्किल स्थित किसी परिचित की दुकान पर बैठ गया। करीब 15-20 मिनट बाद उसका बेटा जूते लेकर बाहर आया, वहां बाइक नहीं मिली। उसने पिता को फोन किया, बाबू खां तुरन्त मौके पर पहुंचे। वहां बाइक नहीं मिली। बाबू खां के मुताबिक करीब तीन-चार घंटे इधर-उधर बाइक तलाशी।  इंतजार किया कि कहीं कोई गलती से तो नहीं ले गया। जब बाइक कहीं नहीं मिली तो फिर मालपुरा थाने में एफआईआर दर्ज कराई। 



...तो आम जन का कौन धणी-धोरी


दिलचस्प पहलू यह है कि वीरेन्द्र टॉवर के पास में ही डिप्टी ऑफिस भी है। ऐसे में चोरों को पुलिस का कोई भय नहीं है। जब चोर पुलिस के सामने से ही चोरी करने से गुरेज नहीं करते तो फिर आम लोगों का कौन धणी-धोरी होगा। पुलिस ने मौका-मुआयना कर लिया है और जांच अधिकारी भी नियुक्त कर दिया है। चोरी हुए चार दिन बीत गए, लेकिन पुलिस अभी तक चोरों का सुराग नहीं लगा सकी है। हालांकि, पीडि़त बाबू खां के बेटे ने वीरेन्द्र टॉवर में लगे सीसीटीवी खंगाले, लेकिन, उनमें बाइक नहीं दिख रही है। उसके पास में ही स्थित एजी मेंशन के कैमरे खराब बताए गए हैं। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर बाजार में पटाखे की चिंगारी कहर बनकर टूटी