अरे ! ओ सांभा...वो सिर्फ 25 विधायक फिर भी संकट में सरकार

- कांग्रेस विधायकों ने होटल में देखी 'शोले' फिल्म



जस्ट टुडे

जयपुर। सरकार बचाने में जुटी कांग्रेस ने अपने विधायकों को सियासी क्वारेंटाइन कर रखा है। वहां पर विधायकों को एकजुट रहने की नसीहत दी जा रही है। इसके लिए उन्हें लगान जैसी फिल्म भी दिखाई जा रही है तो विधायक हम होंगे कामयाब गाना भी गा रहे हैं। इसी क्रम में विधायकों में जोश, जज्बा और जुनून पैदा करने के लिए रविवार को मशहूर हिन्दी फिल्म 'शोले' दिखाई गई। वहीं बागी विधायकों को दिनभर एसओजी दिल्ली में खोजती रही, लेकिन, उनका पता नहीं चल सका। 


फिट बैठता है डायलॉग


इस फिल्म में मशहूर डायलॉग है। अरे ओ सांभा कितने आदमी थे। प्रदेश के ताजा सियासी घटनाक्रम की बात की जाए तो यह डायलॉग बिलकुल सटीक बैठता है। मसलन: गहलोत के पास ज्यादा विधायक हैं, वहीं पायलट गुट में सिर्फ 22-25 विधायक हैं, फिर भी उनकी सरकार पर संकट गहरा गया है। ऐसे में गहलोत ने विधायकों को पकडऩे के लिए एसओजी लगा रखी है, लेकिन, विधायक अभी पहुंच से दूर हैं। ऐसे में गहलोत शायद यही कह रहे हों कि वो सिर्फ 25 और हमारे पास 92 विधायक...फिर भी सरकार गिरने का खतरा। इसके बाद वे एसओजी से मानो कह रहे हों ऐसे कैसे चलेगा? 


एकजुट रहने की सीख



कांग्रेस विधायकों को 'शोले' फिल्म दिखाकर एकजुट रहने का संदेश सिखा रही है। फिल्म के जरिए बताया जा रहा है कि चाहे कोई भी परिस्थिति आ जाए अपने सरदार यानी अपनी पार्टी के प्रति पूरी निष्ठा रखनी चाहिए। वहीं जय-वीरू की तरह हर परिस्थिति से मुकाबला करने को तैयार रहना चाहिए। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार