सांगानेर में मुख्यमंत्री के आदेशों की उड़ीं धज्जियां, कोरोना रैली में खानापूर्ति

- पंचायत समिति कार्यालय से सिटी बस स्टैण्ड तक (150 मीटर ) ही निकाली रैली...ऐसे में जन कैसे होगा जागरूक 

- पंचायत कार्यालय में सैनेटाइजर की भी नहीं थी व्यवस्था

- अधिकारियों ने बैनर के साथ फोटो खिंचा कर ली इतिश्री


जस्ट टुडे
जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार से कोरोना की रोकथाम के लिए प्रदेश में जागरूकता अभियान की शुरुआत की, वहीं अधिकारी इसके नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर इतिश्री कर रहे हैं। कुछ ऐसा ही वाकया सामने आया है सांगानेर में। सांगानेर में एसडीएम घनश्याम शर्मा और विकास अधिकारी मुरारी लाल शर्मा ने सिर्फ बैनर के साथ फोटो खिंचवाकर अभियान की इतिश्री कर ली। ऐसे में यह ना केवल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आदेशों की खुलेआम अवहेलना है बल्कि कोरोना महामारी में अकर्मण्यता का जीवंत उदाहरण भी है। अगर अधिकारी अभियान के नाम पर ऐसे ही खानापूर्ति करेंगे तो फिर जनता जागरूक कैसे होगी। 


150 मीटर तक रैली निकाल, की खानापूर्ति



दरअसल, मुख्यमंत्री ने सोमवार को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूकता के लिए विशेष अभियान की शुरुआत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से मुख्यमंत्री निवास से की। इसी की पालना के लिए सोमवार को सांगानेर में पंचायत समिति कार्यालय में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के हाथों में बैनर पकड़ा दिए गए। एसडीएम घनश्याम शर्मा और विकास अधिकारी मुरारी लाल शर्मा ने हरी झण्डी दिखाकर रैली को रवाना कर दिया। रैली पंचायत समिति कार्यालय से बस स्टैण्ड सर्किल तक गई और फिर वहां से पंचायत कार्यालय आकर समाप्त हो गई। आश्चर्यजनक बात यह है कि पंचायत कार्यालय से बस स्टैण्ड सर्किल की दूरी मात्र 100-150 मीटर ही है। अब 100-150 मीटर की रैली से लोगों में कितनी जागरूकता फैलेगी, इसका अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है। खास बात यह है कि यह क्षेत्र सांगानेर बाजार में आता है, ऐसे में आम जनता को तो पता ही नहीं चला कि रैली निकली भी या नहीं?


सैनेटाइजर की नहीं थी व्यवस्था


रैली में करीब 25-30 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता थीं। सूत्रों ने बताया कि पंचायत समिति कार्यालय में सैनेटाइजर की व्यवस्था ही नहीं थी। इन आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहित मौजूद किसी को भी सैनेटाइज नहीं किया गया। जो अधिकारी स्वयं ही जागरूक नहीं है, वे जनता को क्या जागरूक कर पाएंगे, यह सोचने वाली बात है। ऐसे में सिर्फ कागजी खानापूर्ति के लिए सांगानेर में कोरोना जागरूकता रैली निकाली गई।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार