सांगानेर में 185 गर्भवती और 623 बच्चों के लगे टीके

- मातृ, शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस: 270 सत्रों में 1227 गर्भवती महिलाओं और 3515 बच्चों का टीकाकरण



विज्ञापन


जस्ट टुडे

जयपुर। मातृ, शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस पर जयपुर जिला द्वितीय में विभिन्न चिकित्सा संस्थानों पर 270 टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया गया, इस दौरान मास्क और सेनेटाइजर का उपयोग करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग सहित अन्य सभी महत्वपूर्ण गाइड लाइन का पालन भी किया गया। इस दौरान कुल 270 सत्रों में 1227 गर्भवती महिलाओं और 3515 बच्चों का टीकाकरण किया गया। 

आशा सहयोगिनी और नर्सिंग स्टाफ का सहयोग


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. हंसराज भदालिया ने बताया कि निदेशालय से प्राप्त दिशा- निर्देशों के अनुसार जिले में कंटेन्मेंट व बफर जोन से बाहर के क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं और बच्चों को टीकाकरण की सेवाएं प्रदान की गईं। इसमें आशा सहयोगिनी और नर्सिंग स्टाफ ने उल्लेखनीय योगदान दिया। इस दौरान 270 सत्र आयोजित किए गए, जिसमें चाकसू में 165 गर्भवती महिलाओं और 390 बच्चों, सांगानेर में 185 गर्भवती महिलाओं और 623 बच्चों, बस्सी में 176 गर्भवती महिलाओं और 518 बच्चों, फागी में 90 गर्भवती महिलाओं और 234 बच्चों, सांभर में 196 गर्भवती महिलाओं और 524 बच्चों, दूदू में 264 गर्भवती महिलाओं और 575 बच्चों और शहरी क्षेत्र में 151 गर्भवती महिलाओं और  651 बच्चों का टीकाकरण किया गया।


सोशल डिस्टेंसिंग की पूरी पालना

उन्होंने बताया कि प्राथमिक चिकित्सा केन्द्रों, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, आंगनबाड़ी केन्द्रों और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में एमसीएचएन डे पर टीकाकरण सत्रों के आयोजन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग सहित सभी गाइड लाइन का पालन किया गया। साथ ही टीकाकरण सत्रों की जिला एवं ब्लॉक स्तर से प्रभावी मॉनिटरिंग की गई। आगामी समय में भी नियमित रूप से मोडिफाइड प्लान के अनुसार जिले के अन्य क्षेत्रों में भी टीकाकरण सत्रों का आयोजन किया जाएगा। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार