पर्यटकों से फिर आबाद हुआ आमेर महल

- लॉकडाउन के बाद पर्यटकों के कदम फिर बढ़े किले की तरफ

- चार दिन में बढ़े पर्यटक, पर्यटन जगत के लिए खुशखबरी 


जस्ट टुडे
जयपुर। कोरोना महामारी ने जग विख्यात जयपुर के आमेर महल की रौनक भी छीन ली थी। हजारों की तादाद में पर्यटकों से गुलजार रहने वाला किला एकदम से वीरान हो गया था। पर्यटन जगत से जुड़े लोगों के माथे पर भी शिकन आ गई थी। अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पडऩे से पर्यटक अब आमेर महल आएंगे या नहीं, इस पर भी संशय था। लेकिन, लॉकडाउन खुलने के बाद ये आशंकाओं के बादल छंट गए। आमेर महल फिर पर्यटकों से आबाद  होना शुरू हो गया है।


 
पर्यटकों की थर्मल स्कैनिंग 


आंकड़ों की मानें तो लॉकडाउन खुलने के बाद 2 जून को 159 पर्यटक आमेर महल देखने पहुंचे थे, जिनकी संख्या बढ़कर शनिवार को 175 पर पहुंच गई है। यानी धीरे-धीरे पर्यटकों के कदम फिर से आमेर महल की तरफ बढऩे लग गए हैं। पर्यटन जगत के लिए यह खुशखबरी की बात है। आमेर महल में सरकारी गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है। शनिवार को पर्यटकों की थर्मल स्कैनिंग की गई और सैनेटाइजर से सभी के हाथों को साफ करवाया गया। 


विश्व पर्यावरण दिवस पर लगाए पौधे



विश्व पर्यावरण दिवस पर आमेर महल के अधिकारियों और कर्मचारियों ने पौधरोपण किया। आमेर महल अधीक्षक पंकज धरेन्द्र ने बताया कि इस मौके पर पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने की शपथ भी ली गई।


फिर से बढ़ेगी पर्यटकों की संख्या

आमेर महल में शनिवार को 175 पर्यटकों में 1 पर्यटक इटली का भी था। आने वाले दिनों में पर्यटकों की संख्या फिर से बढऩे की उम्मीद है। - पंकज धरेन्द्र, अधीक्षक आमेर महल


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार