हरी सब्जियों में महंगाई का तड़का, थाली से हुई गायब

- आवक कम और डिमांड ज्यादा होने से मुहाना मण्डी में सब्जियों का थोक मूल्य हुआ दोगुना

- होटल रेस्टोरेंट खुलने से भी सब्जियों के बढ़े दाम, आम-आदमी की पहुंच से दूर 


विज्ञापन

जस्ट टुडे
जयपुर। लॉकडाउन में फल-सब्जियों की डिमांड घटने से जहां उनके भावों में कमी आ गई थी, वहीं अब इनके थोक दामों में दोगुनी वृद्धि हो गई है। थोक दाम दोगुने होने से रिटेल में सब्जियां और भी महंगी मिल रही हैं। महंगाई के चलते दाल, छोले, राजमा तो पहले से ही आम-आदमी के बूते से बाहर थे। वहीं अब हरी सब्जियां भी आम-आदमी की थाली से गायब हो गई हैं। कोरोना महामारी ने कई लोगों को बेरोजगार कर दिया है, ऐसे में आम-आदमी के पास दो जून की रोटी का इंतजाम करना ही टेढ़ी खीर हो गया है। ऐसे में हरी सब्जियों में भी महंगाई का तड़का लगने से आम-आदमी बेचैन है।


रिटेल में भी दोगुने हुए भाव



लॉकडाउन के दौरान टमाटर रिटेल में 10 से 15 रुपए किलो, आलू 20 रुपए किलो, प्याज 20 रुपए किलो, टिण्डे 20-25 रुपए किलो, घीया 20 रुपए किलो, अदरक 60 रुपए किलो, नींबू 30 रुपए किलो, तुरई 20 रुपए किलो और ग्वार फली 15 रुपए किलो में मिल रही थी। अन्य सब्जियों के दाम भी रिटेल में करीब-करीब इतने ही थे। लेकिन, अब मुहाना मण्डी में थोक मूल्य भी इस रिटेल मूल्य से ज्यादा हो गए हैं। ऐसे में रिटेल में भी सब्जियों के दाम दोगुने हो गए हैं। 


अभी और बढ़ेंगे दाम



मुहाना टर्मिनल मार्केट स्थित जयपुर फल-सब्जी थोक व्रिकेता संघ के अध्यक्ष राहुल तंवर का कहना है कि मुहाना मण्डी में लॉकडाउन में आस-पास के क्षेत्रों से सब्जियों की बम्पर आवक आ रही थी। तब लोग कोरोना महामारी के डर से फल-सब्जी नहीं खरीद रहे थे। तब उनके भाव भी कम थे। अब मण्डी में आस-पास के क्षेत्रों से सब्जियों की आवक लगभग खत्म हो गई है। वहीं डिमांड बढ़ गई है, ऐसे में थोक मूल्य दोगुना हो गया है। तंवर ने बताया कि होटल-रेस्टोरेंट खुलने से भी सब्जियों की डिमांड में तेजी आई है। उन्होंने बताया कि आगामी दिनों में भी सब्जियों के दामों में बढ़ोतरी की संभावना है। 


मुहाना मण्डी में यह है थोक मूल्य


टमाटर                 15 से 18 रुपए किलो
टिण्डे                   25 से 30 रुपए किलो 
अदरक                80 से 85 रुपए किलो
नींबू                     28 से 30 रुपए किलो
तुरई                    15 से 20 रुपए किलो
कैरी                     10 से 15 रुपए किलो
मिर्च                    8 से 10 रुपए किलो
ग्वार फली            15 रुपए किलो
फूल गोभी             30 रुपए किलो
पत्तागोभी            8 से 10 रुपए किलो
लहसुन                 50 से 55 रुपए किलो
आलू                    18 से 20 रुपए किलो
प्याज                   10 से 12 रुपए किलो


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार