सांगानेर में राशन वितरण अनियमितता की होगी जांच

मुख्यमंत्री गहलोत के निर्देश पर सोमवार को कलक्ट्रेट में विधायक लाहोटी की कलक्टर डॉ. जोगाराम के साथ हुई बैठक
कलक्टर ने दिया दोषियों पर कार्रवाई का आश्वासन


जस्ट टुडे
जयपुर। सांगानेर विधायक अशोक लाहोटी लॉकडाउन में राज्य सरकार पर लगातार हमले कर रहे हैं। कुछ दिनों पहले उन्होंने जिला प्रशासन और नगर-निगम पर कांग्रेस पार्टी के इशारे पर कार्य करने का आरोप लगाया था। लाहोटी ने आरोप लगाया था कि सरकारी राशन को अपने चहेतों, वोट बैंक, राजनीतिक पसंद और नापसंद के आधार पर बांटा जा रहा है। इसके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर सोमवार को कलक्ट्रेट में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में विधायक अशोक लाहोटी, कलक्टर डॉ. जोगाराम, नगर-निगम आयुक्त वीपी सिंह और सांगानेर एसडीएम घनश्याम शर्मा मौजूद रहे। इस दौरान प्रशासन की ओर से पिछले दिनों राशन वितरण में हुई अनियमितता की जांच करवाकर दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही का भरोसा दिलाया। साथ ही आगामी दिनों में निष्पक्ष सूचियां तैयार करवाकर राशन वितरण की व्यवस्था बनाने का भी आश्वासन दिया। 


बैठक में आरोप के साथ दिखाए प्रूफ 


स्थानीय नागरिकों की ओर से प्राप्त शिकायत व मौके से ली गई तस्वीरें बैठक के दौरान विधायक लाहोटी की ओर से जिला कलक्टर डॉ. जोगाराम, जिला प्रभारी सचिव अमिताभ शर्मा और नगर-निगम आयुक्त वीपी सिंह को दी गईं। लाहोटी ने बताया कि शिकायतों और तस्वीरों में साफ दिख रहा है कि कैसे जिला प्रशासन और निगम प्रशासन सरकारी राशन का वितरण सिर्फ कांग्र्रेस कार्यकर्ताओं की पसंद के अनुसार कर रहे हैं। लाहोटी के मुताबिक सांगानेर के वार्ड 35 के एक कांग्रेस कार्यकर्ता के घर पर निगम कर्मचारियों की उपस्थिति में अपने हिसाब से सूचियां तैयार करवाईं गईं। फिर वहां से सरकारी गाडिय़ां राशन वितरण के लिए रवाना हुईं। 

महामारी में ऐसा कार्य नहीं न्यायोचित


                                                  विज्ञापन

विधायक अशोक लाहोटी ने बैठक में प्रशासन पर आरोप लगाया कि एक तरफ तो राशन कार्ड से लोगों को राशन नहीं मिल रहा। राशन कार्ड में नाम जोड़कर उनको एक्टिवेट नहीं किया जा रहा और जिनका नाम जुड़ा हुआ है, उनको राशन नहीं मिल रहा। दूसरी तरफ नगर निगम के अधिकारी कांग्रेस के लोगों के घर से उनकी पसंद व नापसंद और वोट बैंक के आधार पर राशन बांट रहे हैं। जो कांग्रेसी हैं उन्हीं को राशन दिया जा रहा है। जरूरतमंदों की सूची बना कर दिए एक महीने से ऊपर हो गया है, परन्तु प्रशासन ने अभी तक उनको राशन नहीं पहुंचाया है। लाहोटी ने कहा कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में इस प्रकार का कृत्य कतई न्योचित नहीं है।


...तो निगम कार्यालय में जाएगी जनता


              विज्ञापन

विधायक लाहोटी ने सांगानेर में सुचारू व निष्पक्ष राशन वितरण की आगामी तीन दिनों में व्यवस्था करने की मांग की। उन्होंने कहा कि यदि व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ तो फिर स्थानीय निवासी नगर-निगम कार्यालय में राशन मांगने जाएंगे, जिससे उत्पन्न होने वाली कानून व्यवस्था की सभी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार