सांगानेर जलदाय विभाग ने पूरी नहीं की आस...निजी टैंकर से लोग बुझा रहे प्यास

जनता का दर्द बयां करती जस्ट टुडे की स्पेशल रिपोर्ट


- मालपुरा गेट स्थित गणेश कॉलोनी, रामको की ढाणी और वीर तेजाजी नगर में दो माह से नहीं आ रहा नलों में पानी

- जलदाय अधिकारियों ने हर बार दिया सिर्फ आश्वासन, कॉलोनी वासी निजी टैंकर मंगवाकर प्यास बुझाने को हुए मजबूर



जस्ट टुडे
जयपुर। गर्मी शुरू होते ही पानी की मारामारी शुरू हो गई है। तेज गर्मी को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पेयजल की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद भी सांगानेर में मालपुरा गेट के पास स्थित गणेश कॉलोनी, रामको की ढाणी और वीर तेजाजी नगर सहित कई कॉलोनियों के लोग पेयजल के लिए परेशान हो रहे हैं। इन कॉलोनियों के लोगों ने बताया कि करीब दो महीने से नलों में पानी ही नहीं आ रहा है। इस बारे में जलदाय विभाग के अधिकारियों को कई बार अवगत कराया गया, लेकिन, जिम्मेदारों ने अभी तक अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाई। ऐसे में मजबूरन लोगों को निजी टैंकरों से प्यास बुझानी पड़ रही थी।


250 रुपए देकर मंगा रहे थे निजी टैंकर



इन तीनों कॉलोनियों के लोगों ने बताया कि इनके यहां पर जलदाय विभाग की ओर से पीली का खाना स्थित पेयजल टंकी से सुबह-शाम 6-7 बजे तक पानी की आपूर्ति अभी तक होती रही है। लेकिन, पिछले दो माह से इन कॉलोनियों के नलों में पानी शुरू होने से पहले ही खत्म हो जाता है। ऐसे में ये लोग पैसे देकर टैंकर मंगवाने को मजबूर थे। गणेशपुरी कॉलोनी के निवासी गुरुदास कुमावत और रमेश चन्द्र शर्मा ने बताया कि दो महीने से 5-7 मिनट भी पानी नहीं आ रहा था। ऐसे में कॉलोनीवासी निजी टैंकर मंगाकर प्यास बुझा रहे थे। उन्होंने बताया कि एक टैंकर करीब 250 रुपए का आता है, जो सिर्फ 4-5 दिन ही चलता है। ऐसे में इन तीन कॉलोनियों के हजारों परिवारों ने अपनी प्यास बुझाने में लाखों रुपए पानी की तरह बहा दिए। उन्होंने बताया कि इस बारे में जलदाय विभाग में कई बार शिकायत की, लेकिन, दो माह में कभी पानी नहीं आया। 


ठेकेदार पर लगाया मिलीभगत का आरोप


इन कॉलोनीवासियों ने बताया कि क्षेत्र में जलदाय विभाग की दो पेयजल टंकी हैं। एक टंकी कोहिनूर सिनेमा के सामने है, जिसकी पाइप लाइन करीब 5 फीट नीचे है। वहीं दूसरी टंकी पीली का खाना में है, जिसकी पाइप लाइन करीब 2 फीट नीचे है। लोगों का आरोप है कि स्थानीय ठेकेदार ने मिलीभगत करके दोनों पाइप लाइनों को जोड़ दिया, ऐसे में कोहिनूर सिनेमा के सामने स्थित पेयजल टंकी से जुड़ी कॉलोनियों में पानी का प्रेशर अच्छा हो गया। क्योंकि, उसकी पाइप लाइन पांच फीट नीचे थी। वहीं गणेश कॉलोनी, रामको की ढाणी और वीर तेजाजी नगर में पानी आना बंद हो गया। 


हंगामा किया तो जेईएन ने फिर दिया अवैध पाइप लाइन हटाने का आश्वासन



दो माह से पानी नहीं आने को लेकर हंगामा करते लोग। 

इन तीनों कॉलोनी के लोगों ने बताया कि इन दो माह के दौरान जलदाय विभाग के अधिकारियों को कई बार समस्या से अवगत कराया, लेकिन, इसका समाधान नहीं हुआ। अब गर्मी तेज हो गई है, ऐसे में पानी की आवश्यकता ज्यादा होती है। वहीं पैसे देकर कब तक टैंकर मंगाए।


पेयजल की मांग को लेकर पीली का खाना स्थित पेयजल टंकी पर धरना देने आए लोग

गणेशपुरी कॉलोनी के निवासी गुरुदास कुमावत और रमेश चन्द्र शर्मा ने बताया कि पेयजल आपूर्ति ना होने से परेशान सभी कॉलोनी के लोगों ने गुरुवार सुबह पीली का खाना स्थित पेयजल टंकी पर धरना दिया। सभी ने पानी की आपूर्ति को लेकर मौके पर ही जेईएन को बुलाने की मांग की। हंगामा बढ़ता देख मौके पर जेईएन पहुंचे, उन्होंने लोगों को आश्वासन दिया कि वे जल्द ही अवैध पेयजल लाइन को हटावाएंगे और इन कॉलोनियों में पानी की आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाएगी। इसके बाद सभी लोगों ने धरना समाप्त किया।


जेईएन ने नहीं रिसीव किया जस्ट टुडे का फोन



इस बारे में जानकारी के लिए जस्ट टुडे ने जेईएन ज्ञानचंद बैरवा को फोन मिलाया। इस पर जेईएन ने कहा कि इस तरह की कोई बात नहीं है। जस्ट टुडे ने पूछा कि गणेश कॉलोनी, रामको की ढाणी और तेजाजी नगर में दो माह से पानी क्यों नहीं आ रहा है तो उन्होंने कहा कि मैं अभी कहीं काम से आया हुआ हूं। आपको थोड़ी देर में कॉल करके बात करता हूं। जस्ट टुडे ने काफी देर इंतजार के बाद जेईएन ज्ञानचंद बैरवा को फिर फोन मिलाया तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर बाजार में पटाखे की चिंगारी कहर बनकर टूटी