महाराष्ट्र से जयपुर पहुंचे 2400 प्रवासी 

- जिला प्रशासन द्वारा रेलवे स्टेशन पर किए गए सोशल डिस्टेंसिंग, स्क्रीनिंग एवं रास्ते के लिए भोजन वितरण के समुचित इंतजाम

 

-डिब्बे से उतरते ही टोकन मिला, यात्री लाइन में अनुशासित तरीके से बसों तक पहुंचे

 

जस्ट टुडे 

जयपुर। लॉकडाउन के कारण महाराष्ट्र के विभिन्न शहरों में फंसे करीब 2400 प्रवासी राजस्थानियों को लेकर दो ट्रेन मंगलवार को जयपुर रेलवे जंक्शन पहुंचीं। पहली ट्रेन सुबह करीब 8ः30 बजे और दूसरी दोपहर 12ः45 बजे यहां पहुंची। यात्रियों के यहां पहुुंचने से पहले ही जिला प्रशासन द्वारा यात्रियों को ट्रेन समुचित स्क्रीनिंग, भोजन प्रदान कर गंतव्य के लिए आरएसआरटीसी की बसों में बिठाने की पूरी व्यवस्था कर ली थी।

 


जिला कलक्टर डॉ.जोगाराम ने बताया कि एक दिन पहले ही सूचना मिली थी कि दो ट्रेन प्रदेश के करीब 2400 यात्रियों को लेकर यहां पहुुंच रही हैं। रेलवे अधिकारियों से समन्वय कर जिला प्रशासन द्वारा इन यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग एवं सभी मेडिकल प्रोटोकॉल का पालन करते हुए इनके गंतव्य के लिए रेलवे स्टेशन से ही बसों में बिठाने की व्यवस्था कर ली गई थी। पूरे स्टेशन  के प्लेटफार्म पर यात्रियों के उतरने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग के लिए चार लाइनें बनाई गईं। उतरते ही उनको दिए गए टोकन के अनुसार सम्बन्धित लाइन पर पहुंचाया गया। यहां उनकी आधा दर्जन टीमों द्वारा स्क्रीनिंग की गई एवं उनको फूड पैकेट्स प्रदान किए गए।

 

स्क्रीनिंग के बाद किया रवाना

 

जिला कलक्टर ने बताया कि स्टेशन पर पूरी व्यवस्था को सुनिश्चित करने में जिला प्रशासन, पुलिस, रेलवे, नगर निगम, मेडिकल, रोडवेज समेत कई विभागों के अधिकारी कर्मचारी लगे हुए थे और यात्रियों का भी पूरा सहयोग रहा जिससे सभी यात्री समुचित स्क्रीनिंग के बाद बसों में अपने गंतव्यों पर रवाना हो गए।

यहां से सभी बसें सिन्धी कैम्प स्थित रोडवेज मुख्यालय पहुंची जहां जिला प्रशासन एवं रोडवेज के अधिकारियेां ने सभी बसों में मौजूद यात्रियों की सूची का मिलान कर गंतव्य तक उनके पहुंचने के इंतजामों को सुनिश्चित किया एवं बसों को सम्बन्धित जिलों को रवाना किया।

 

पहली ट्रेन में थे 1207 यात्री 

 

डॉ.जोगाराम ने बताया कि सुबह 8ः30 बजे पहुंची पहली ट्रेन में 1207 यात्री थे, जो अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, बाडमेर, भीलवाड़ा, बीकानेर, चित्तौड़गढ़, चूरू, धौलपुर, डूंगरपुर, जयपुर, जैसलमेर, जालौर, झुुंझुनू, जोधपुर, कोटा, नागौर, पाली, प्रतापगढ़, राजसमन्द, सीकर, सिरोही, उदयपुर जिलों के थे। इनमें जयपुर के 13 यात्री भी शामिल थे।

 

जयपुर के 278 थे यात्री 


इसी प्रकार दूसी ट्रेन 1194 लोगों को लेकर जिसमें बाड़मेर, भीलवाड़ा, बीकानेर, चूरू, धौलपुर, डूंगरपुर, हनुमानगढ, जयपुर, जैसलमेर, जालौर, झुंझुनू, जोधपुर, करौली, कोटा, नागौर, पाली, रासमन्द, सीकर, सिरोही, उदयपुर के यात्री सवार थे। इस ट्रेन में जयपुर के 278 यात्री सवार थे।

 

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर में नया अध्यक्ष चुनने आज एक जाजम पर बैठेंगे व्यापारी