एक्सक्लूसिव : ठेलों पर तरकारी...बनी महामारी...लगाम की तैयारी

जयपुर में पिछले 5 दिनों में 17 सुपर स्प्रेडर में कोरोना की पुष्टि... इनमें सबसे ज्यादा 10 सब्जी वाले
गुरुवार को सांगानेर बाजार में 100 और खोखाबास एवं सीताबाड़ी में लिए जाएंगे करीब 80 सैम्पल


जस्ट टुडे की ग्राउण्ड रिपोर्ट


जस्ट टुडे
जयपुर। सरकार की तमाम कोशिशों के बाद भी राजधानी जयपुर में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पहले सरकार के लिए रामगंज चुनौती बना हुआ था, वहां स्थिति काबू में आई तो फिर एक नई चुनौती ने माथे पर सलवटें उकेर दीं। सरकार के लिए नई चुनौती बनकर आए हैं सुपर स्प्रेडर। सुपर स्प्रेडर में दुकानदार, सब्जीवाले, दूध विक्रेता, फार्मासिस्ट और गैस सप्लायर आदि कई शामिल हैं। जयपुर की बात की जाए तो पिछले पांच दिनों में अब तक करीब 17 सुपर स्प्रेडर पॉजिटिव मिल चुके हैं। चिंता की बात यह है कि इनमें 10 सब्जीवाले हैं।



ये सब्जी वाले दिनभर में ना जाने कितने लोगों को सब्जी बेचते हैं। इनमें भी ठेले पर सब्जी बेचने वाले ज्यादा चिंता बढ़ा रहे हैं। ये दिनभर कई कॉलोनियों में घूमते हैं, ऐसे में इनके सम्पर्क में कौन-कौन आया, यह पता लगाना मुश्किल काम है। यानी ठेलों पर तरकारी लोगों के लिए महामारी बन गई है। 


मुहाना मण्डी में भी मिल चुके हैं केस


राजस्थान की सबसे बड़ी फल और सब्जी मण्डी मुहाना में भी दो दिनों में लगातार दो कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। ये दोनों ही व्यक्ति सब्जी विक्रेता हैं। चूंकि, मुहाना मण्डी में राजस्थान सहित कई राज्यों से फल और सब्जियां आती हैं। ऐसे में यह समझना मुश्किल है कि कोरोना संक्रमण का सोर्स कहां से था। मुहाना मण्डी से सब्जी खरीदकर रोजाना सैकड़ों ठेले-थड़ी वाले कई कॉलोनियों में सब्जी बेचते हैं। ऐसे में जाने-अनजाने वे सब्जी के साथ बीमारी भी तोहफे में दे रहे हैं। जयपुर में सुपर स्प्रेडर में सबसे ज्यादा संख्या सब्जी विक्रेताओं की ही मिली है, ऐसे में गुरुवार से शहरभर में इनकी रैण्डम सैम्पलिंग शुरू की जाएगी।

नगर-निगम के 12 जोनों में ठेले वालों के शुरू हुए टेस्ट

ठेला सब्जी विक्रेताओं में लगातार कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने पर प्रशासन और नगर-निगम चुनिंदा ठेला सब्जी विक्रेताओं को ही कॉलोनियों में जाने की अनुमति देंगे। जानकारी के मुताबिक गे्रटर निगम में सांगानेर, मानसरोवर, मालवीय नगर, मुरलीपुरा, झोटवाड़ा, विद्याधर नगर, आदर्श नगर और जगतपुरा जोन हैं। वहीं हैरिटेज निगम में आमेर, हवामहल, किशनपोल और सिविल लाइंस जोन हैं। ऐसे में इन सभी जोनों में ठेला सब्जी विक्रेताओं के साथ ही सभी सुपर स्प्रेडर की रैण्डम सैम्पलिंग की जाएगी। कई जोन में गुरुवार से सैम्पलिंग शुरू हो जाएगी। इन सैम्पलिंग में रिपोर्ट निगेटिव आने वालों को जोन स्तर पर नीले-पीले रंग की कैप दी जाएगी। यह कैप लाइसेंस का कार्य करेगी, इन्हीं लोगों को जोन के किसी एक क्षेत्र में सब्जी बेचने की अनुमति मिलेगी। इन सभी की हर सप्ताह स्क्रीनिंग भी की जाएगी। दोनों निगमों के 12 जोन में करीब 1100 लोगों को यह कैप दी जाएगी।

कहां से कितने लिए जाएंगे सैम्पल



मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जयपुर द्वितीय ने इस सम्बंध में आदेश जारी किए हैं। आदेश के मुताबिक 7 मई गुरुवार को फल-सब्जी की दुकानों, ठेलों, स्ट्रीट वेंडर्स, डेयरी बूथ, दूध विक्रेता, किराना एवं राशन दुकानदार, ग्रॉसरी शॉप्स, दवाई की दुकानों के विक्रेताओं एवं आम लोगों की रैण्डम सैम्पल लिए जाएंगे। इनमें से सबसे पहले गुरुवार को सांगानेर बाजार में करीब 100 सैम्पल, खोखाबास एवं सीताबाड़ी में करीब 80 सैम्पल और सत्कार शॉपिंग सेंटर मालवीय नगर में 60 रैण्डम सैम्पल लिए जाएंगे। इसके अलावा 8 मई शुक्रवार को प्रताप नगर गौशाला के सामने, एनआरआई के आस-पास करीब 100 सैम्पल और मध्यम मार्ग, मानसरोवर में भी 100 रैण्डम सैम्पल लिए जाएंगे। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर में नया अध्यक्ष चुनने आज एक जाजम पर बैठेंगे व्यापारी