छह बार विधायक रहे वरिष्ठ भाजपा नेता भंवरलाल शर्मा का निधन

- 1964 में पहली बार जयपुर नगर परिषद के बने अध्यक्ष, तीन बार प्रदेशाध्यक्ष भी रह चुके



जस्ट टुडे

जयपुर। भाजपा के वरिष्ठ नेता भंवरलाल शर्मा का शुक्रवार को 97 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। वे पिछले कई समय से बीमार थे। भंवरलाल राजस्थान में तीन बार भाजपा प्रदेशाध्यक्ष और लगातार छह बार विधायक रह चुके हैं। भंवरलाल शर्मा के निधन पर भाजपा ही नहीं बल्कि कांग्रेस नेताओं ने भी शोक व्यक्त किया है। भंवरलाल शर्मा का शनिवार को चांदपोल मोक्षधाम में अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनके परिवार में पत्नी सहित तीन पुत्र व एक पुत्री है। 

सभी दलों के नेताओं ने दी श्रद्धांजलि


भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां, जयपुर सांसद रामचरण बोहरा, पूर्व मंत्री अरुण चतुर्वेदी, भाजपा के प्रदेश संगठन मंत्री सहित कांग्रेस के हवामहल से विधायक महेश जोशी सहित तमाम नेता और कार्यकर्ता उनके गणगौरी बाजार स्थित घर पर पहुंचे। सभी ने गमगीन माहौल में शर्मा को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। 

पीएम मोदी ने भी की थी फोन पर बात


कोरोना महामारी की वजह से जारी लॉकडाउन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के वरिष्ठ भाजपा नेताओं से फोन के जरिए सम्पर्क कर हालचाल जाना था। इनमें पंडित भंवरलाल शर्मा भी शामिल थे। फोन पर बातचीत में पीएम नरेंद्र मोदी ने भंवरलाल शर्मा से पूछा कि आपके वहां माहौल कैसा है। तब, फोन पर जवाब देते हुए शर्मा ने कहा कि कारोना से बचाव के लिए राष्ट्रहित में लिए गए आपके निर्णय बहुत उत्तम है। पूरा देश आपके साथ है।  


38 साल का दमदार रहा राजनीति कॅरियर


1964 में जयपुर नगर परिषद के चैयरमेन
1971 में किशनपोल से चुनाव लड़ा
1975 में आपातकाल में सत्याग्रह कर जेल में रहे
1977 में हवामहल विधानसभा से चुनाव जीतकर पहली बार विधायक बने।
1978 में पहली बार मंत्री बने, उच्च शिक्षा, स्वायत्तशासन नगरीय विकास, आवासन व खेल मंत्री बने।
1980 से 1990 तक विधायक
1989 में प्रदेशाध्यक्ष रहे
1990 में पुन: जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी, स्वयत्तशासन, नगरीय विकास, आवासन व खेल मंत्री बने।
2000 से 2002 तक तीसरी बार भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बनाए गए।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार