108 क्वारेंटाइन किए लोगों की क्यों नहीं होगी जांच?

8285 लोगों की स्क्रीनिंग हुई सोमवार  को सांगानेर बाजार क्षेत्र में 

जस्ट टुडे
जयपुर। जेठ माह की झुलसाती तेज गर्मी में भी कोरोना वॉरियर्स के हौसले कम नहीं हो रहे हैं। सूर्य देव का रौद्र रूप भी उनके इरादों के सामने पसीना-पसीना हो रहा है। चार पॉजिटिव मिलने के बाद सांगानेर बाजार क्षेत्र में सोमवार को भी कोरोना वॉरियर्स ने स्क्रीनिंग की। करीब 30 टीमों ने नश्तर सी चुभती गर्म हवाओं के थपेड़े में सक्रिय रहीं। सोमवार को सांगानेर बाजार क्षेत्र में अनुराधा, सुनीता, रजनी, अनोप देवी और ऊषा देवी सहित करीब 30 स्वास्थ्य वॉरियर्स सक्रिय रहीं। इन वॉरियर्स ने बताया कि सांगानेर बाजार, खटीकों की ढाल, टिक्कीवालों का मोहल्ला, हरिजन बस्ती, कागजी मोहल्ला, पंचायत समिति क्षेत्र के सामने और पीछे का पूरा क्षेत्र, बगरेटों का मौहल्ला, बड़ा मोहल्ला, किसान कॉलोनी, सुभाष कॉलोनी सहित पूरे क्षेत्र में मोर्चा संभाला और लोगों की स्क्रीनिंग की।
 
30 टीमें अलर्ट रहीं क्षेत्र में


ब्लॉक सीएमओ, सांगानेर धनेश्वर शर्मा
ने बताया कि सोमवार को स्वास्थ्य वॉरियर्स ने सांगानेर मुख्य बाजार सहित कई जगह स्क्रीनिंग की। इस दौरान करीब 30 टीमों ने 1785 घरों का सर्वे किया और 8225 लोगों से सेहत के बारे में पूछा। स्क्रीनिंग में लोगों से उनकी ट्रेवल हिस्ट्री, पिछले दिनों कितने लोगों से मिले, किसी बाहरी व्यक्ति के उनके यहां आने, पहले से किसी बीमारी से ग्रसित होने सहित कई तरह के सवाल पूछे जाते हैं, जिनके आधार पर प्रथमदृष्टया यह अनुमान लग जाता है कि कहां पर कोरोना संक्रमण की संभावना ज्यादा होती है। 

108 लोगों की तभी होगी जांच


उन्होंने बताया कि सांगानेर बाजार में जिन स्थानों पर 4 पॉजिटिव पाए गए थे, उनके करीब 108 परिजनों को क्वारेंटाइन कर दिया गया है। 108 लोगों की जांच रिपोर्ट के सवाल पर उन्होंने बताया कि राज्य सरकार के निर्देश पर अब क्वारेंटाइन सेंटर्स पर परिजनों की जांच करना बंद कर दिया है। उनको 14 दिन तक क्वारेंटाइन सेंटर्स पर रखा जाता है। यदि 10 दिनों के अंदर इनमें से किसी को खांसी, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ सहित कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं तो उनकी जांच की जाएगी। यदि किसी के लक्षण नहीं मिले तो उनकी जांच नहीं की जाएगी। क्वारेंटाइन पीरियड के बाद उनको घर भेज दिया जाएगा।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार