...तो जयपुर में 20000 लोग भी हो सकेंगे क्वारेंटाइन 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में दिए निर्देश, जयपुर को कोरोना मुक्त करने के लिए युद्ध स्तर पर करें काम


जस्ट टुडे
जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निर्देश दिए हैं कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए जयपुर में युद्ध स्तर पर काम किया जाए। उन्होंने कहा कि यह ऐसी महामारी है जिसका आकलन करना बहुत मुश्किल है, ऐसे में हर परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए ऐसी व्यवस्थाएं करें कि इस चुनौती से हम सफलतापूर्वक निपट सकें। 
गहलोत मंगलवार को जयपुर में कोरोना संक्रमण को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंस से समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार संसाधनो में कोई कमी नहीं रख रही है। अधिकारी मिशन के साथ जयपुर को कोरोना मुक्त करने की दिशा में आगे बढ़ें।


13 क्षेत्रों में किया जाए विशेष फोकस

मुख्यमंत्री ने कहा कि क्वारेंटाइन के लिए अधिक से अधिक स्थान चिह्नित कर वहां बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराएं। जेडीए तथा हाउसिंग बोर्ड इन स्थानों पर बिजली-पानी, बिस्तर, भोजन सहित अन्य आवश्यक सुविधाओं की व्यवस्था जल्द से जल्द करें ताकि आवश्यकता पडऩे पर वहां लोगों को क्वारेंटाइन किया जा सके। उन्होंने कहा कि चारदीवारी में जिन 13 क्षेत्रों में संक्रमण के ज्यादा मामले सामने आए हैं, वहां विशेष फोकस किया जाए। 


महला, नायला सहित कई जगह चयनित

जयपुर विकास प्राधिकरण आयुक्त टी. रविकांत ने बताया कि शहर के लिए 20 हजार लोगों को क्वारेंटाइन कर सकने की व्यवस्था की जा रही है। इसके लिए बड़े शैक्षणिक संस्थानों, छात्रावासों, आवासीय योजनाओं के खाली फ्लैट्स सहित अन्य स्थानों को चिह्नित कर वहां सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि महला एवं नायला में क्वारेंटाइन के लिए 5 हजार से अधिक कमरों की व्यवस्था की जा रही है। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर में नया अध्यक्ष चुनने आज एक जाजम पर बैठेंगे व्यापारी