शिक्षा के लिए समर्पण

समर्पण संस्था की अभिनव पहल: एजुकेशनलएम्बेसडर करेंगे जरूरतमंद विद्यार्थियों की सहायता, जल्द होगा प्रथम राष्ट्रीय अधिवेशन


जस्ट टुडे
प्रतापनगर। राजस्थान में पिछले 10 वर्षों से शिक्षा की अलख जगा रही समर्पण संस्था अब देशभर में एजुकेशनल एम्बेसडर नियुक्त कर रही है। ये एजुकेशनल एम्बेसडर जरूरतमंद विद्यार्थियों को शिक्षा में मदद करेंगे। 
एजुकेशनल एम्बेसडर का प्रथम अधिवेशन का आयोजन संभवत: अप्रेल माह में किया जाएगा। अधिवेशन में एजुकेशनल एम्बेसडर के साथ ही समर्पण आदर्श विद्यार्थियों को भी बुलाया जाएगा, ताकि दोनों की आपस में पूरी तरह जानकारी हो सके।
संस्था की ओर से अब तक 354 जरूरतमंद विद्यार्थियों को शिक्षा सहयोग के तहत किताबें, फीस, स्टेशनरी, यूनिफार्म आदि उपलब्ध करवाई जा चुकी हैं। यह सहयोग हर वर्ष जून-जुलाई माह में निर्धन विद्यार्थियों का चयन करके नियमित किया जा रहा है। अब समर्पण संस्था के नवाचार की ओर से नियुक्त 'एजुकेशनल एम्बेसडरÓ रूपी दीपक प्रज्जवलित होकर इस महान कार्य को नई रोशनी देंगे।


कौन बन सकता है एम्बेसडर


ऐसे सेवाभावी व्यक्ति जो आर्थिक दृष्टि से मजबूत हों तथा जिनमें देश और समाज के लिए कुछ कर गुजरने की इच्छाशक्ति हो। एजुकेशनल एम्बेसेडर के आवेदनकर्ता को कम से कम एक जरूरतमन्द 'समर्पण आदर्श विद्याथीÓ का चयन करना होगा। जिसकी शिक्षा के सम्पूर्ण खर्चे की जिम्मेदारी स्वयं को वहन करनी होगी। यह सिलसिला विद्यार्थी के आत्मनिर्भर हो जाने तक रहेगा। इसके अलावा कोई व्यक्ति जरूरतमंद विद्यार्थी की शिक्षा सहायता के लिए यदि प्रतिवर्ष 11000/- संस्था में दान करते हैं तो उन्हें भी संस्था का एजुकेशनल एम्बेसडर नियुक्त करेंगे।


ऐसे विद्यार्थियों को मिलेगी मदद


जिसके माता-पिता नहीं है। या पिता नहीं है (पहले छात्रा, उसके बाद छात्र ) समाज के दबे कुचले वंचित वर्ग का विद्यार्थी, जिसके माता-पिता बीमार है या आर्थिक दृष्टि से बहुत ज्यादा कमजोर हैं। जरूरतमंद निर्धन विद्यार्थी, जिन्हें एजुकेशनल एम्बेसडर शिक्षा के लिए गोद लेंगे, वे संस्था के 'समर्पण आदर्श विद्यार्थीÓ होंगे। समर्पण आदर्श विद्यार्थी को एक भलाई का कार्य भी करना होगा। संस्था में हर 'समर्पण आदर्श विद्यार्थीÓ की फाइल रहेगी और हर वर्ष की प्रगति रिपोर्ट उस फाइल में दर्ज की जाएगी। एम्बेसडर द्वारा विद्यार्थी के लिए किए गए शिक्षा सहयोग का सम्पूर्ण विवरण भी ऑफिस और वेबसाइट पर होगा। 


हर वर्ष होगा एजुकेशनल अधिवेशन 


संस्था द्वारा प्रतिवर्ष एक वार्षिक अधिवेशन आयोजित किया जाएगा, जिसमें सभी शिक्षा सहयोग प्राप्त 'समर्पण आदर्श विद्यार्थीÓ व 'एजुकेशनल एम्बेसडरÓ सम्मिलित होंगे। संस्था द्वारा कुछ चुनिन्दा व्यक्तियों को 'समर्पण एजुकेशनल ब्रांड एम्बेसेडरÓ भी नियुक्त किया जाएगा, जो राज्य, देश व विदेश में शिक्षा के प्रचार- प्रसार के लिए संस्था का प्रतिनिधित्व करेंगे। एजुकेशनल एम्बेसडर द्वारा इस कार्य में किए जाने वाले खर्चो पर आयकर अधिनियम 80जी के तहत छूट होगी। इसके लिए संस्था में सहयोग राशि का चैक जमा करवाना होगा फिर विद्यार्थी को संस्था द्वारा सहयोग किया जाएगा।


सेवा से ही शिक्षा सार्थक
हमारी शिक्षा तभी सार्थक बनती है, जब वह त्याग, सेवा व सहयोग के साथ जुड़ जाती है। समाज के सम्पन्न व्यक्तियों का कमजोर वर्ग के प्रति संवेदनशील होना बहुत जरूरी है। हम यदि किसी को शिक्षा देते हैं तो वह उसके जीवनभर का इंतजाम होता है। - दौलत राम माल्या, संस्थापक समर्पण संस्था

तभी मुख्यधारा में आएंगे बच्चे
शिक्षा से वंचित बच्चों को स्कूल तक लेकर आने का प्रयास बहुत जरूरी है। बच्चे जब शिक्षित होंगे तब ही समाज की मुख्यधारा में आएंगे। 
- अब्दुल सलाम जोहर, प्रधान मुख्य संरक्षक समर्पण संस्था


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार