सीतापुरा में याज्ञवलक्य कॉलेज भी बना क्वारेंटाइन सेंटर

मूलभूत सुविधाओं की व्यवस्था में लगा प्रशासन


जस्ट टुडे
सीतापुरा। कोरोना महामारी में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरतना चाहते हैं। भले ही जयपुर रेड जोन में है, लेकिन फिर भी लॉकडाउन और कानून की सख्ती के चलते धीरे-धीरे संक्रमितों की रिकवरी रेट बेहतर होती जा रही है। ऐसे में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए गहलोत ने अधिकारियों को क्वारेंटाइन सेंटर बनाने पर फोकस करने को कहा है। ऐसे में जयपुर में विभिन्न स्थानों पर जेडीए की ओर से क्वारेंटाइन सेंटर चिह्नित किए जा रहे हैं। इनमें से एक क्वारेंटाइन सेंटर सीतापुरा में भी बनाने की तैयारी चल रही है। 

मेडिकल टीम गठित



प्रतीकात्मक फोटो


इस बारे में सांगानेर ब्लॉक सीएमओ धनेश्वर शर्मा ने बताया कि सीतापुरा स्थित याज्ञवलक्य इंजीनियरिंग कॉलेज को क्वारेंटाइन सेंटर बनाने की तैयारी चल रही है। वहां के लिए मेडिकल टीम गठित कर दी गई है। प्रशासन की ओर से वहां पर मूलभूत सुविधाओं की पूरी व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि इन क्वारेंटाइन सेंटर में कहीं से भी संक्रमित व्यक्ति को लाया जा सकता है। इसका मतलब यह नहीं है कि सीतापुरा या उसके आस-पास के व्यक्ति को ही वहां पर लाया जा सकेगा। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर में नया अध्यक्ष चुनने आज एक जाजम पर बैठेंगे व्यापारी