सांगानेर थाने के इन दो कांस्टेबलों ने सात फेरों पर ड्यूटी को दी तरजीह

सांगानेर व टोंक के मालुपरा थाने के दो-दो और मोती डूंगरी थाने के एक कांस्टेबल ने पेश की मिसाल


जस्ट टुडे
जयपुर। यूं तो आम जनता के बीच 'खाकीÓ की छवि साफ-सुथरी नहीं है। लेकिन, कोरोना महामारी के इस संकटकाल में कई खाकी वर्दी वालों ने अपने जीवन के अनमोल क्षणों को त्याग कर अपनी कर्तव्यनिष्ठा का ऐसा सबूत दिया है, जिससे हर कोई उनकी मुक्तकंठ से प्रशंसा कर रहा है। इन खाकी वर्दी वालों ने अपने इस काम से खाकी में चार चांद लगा दिए हैं। 
इन पुलिसवालों ने अपनी शादियों को स्थगित करते हुए लॉकडाउन में कानून-व्यवस्था संभाल रहे हैं।


इन पुलिसकर्मियों ने शादियां की स्थगित


                        सांगानेर थाने में तैनात कांस्टेबल टिंकू कुमावत की शादी के कार्ड भी बंट गए


इन पुलिसकर्मियों में सांगानेर थाने के टिंकू कुमावत, मुकेश चौधरी, मोती डूंगरी थाने के शिवकुमार, टोंक के मालपुरा थाने में तैनात ओमप्रकाश और निरंध कुमार ने अपनी शादी स्थगित कर दी। सांगानेर थाने में तैनात टिंकू कुमावत की शादी के कार्ड भी बांटे जा चुके थे। इन सभी की शादी अप्रेल और मई माह में ही है। इनमें से कुछ शादियों के लिए तो हलवाई, बैंड-बाजा, घोड़ी आदि बुक होने के साथ ही निमंत्रण-पत्र भी छपवा कर बांट दिए गए। सांगानेर थाने में तैनात कांस्टेबल टिंकू कुमावत की शादी 2 अप्रेल और मुकेश चौधरी की 26 अप्रेल को होना तय हुई थी। 


विवाह से बढ़कर ड्यूटी

इन पुलिसकर्मियों का कहना है कि शादी के लिए इन्होंने छुट्टी के लिए आवेदन भी कर दिया था। इसी बीच राजस्थान में 22 मार्च से लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई। ऐसे में पुलिस कांस्टेबलों ने अपनी जिन्दगी के सुनहरे क्षण पर ड्यूटी को वरीयता दी और शादियों को स्थगित कर दिया।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार