सांगानेर से कोचिंग छात्र घर रवाना, चेहरे पर दिखी रौनक

सांगानेर से 10 बसों में भेजे गए कोचिंग छात्र, लॉकडाउन के चलते जयपुर में फंसे हुए थे

एक्सक्लूसिव...सबसे पहले जस्ट टुडे


जस्ट टुडे
जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर लॉकडाउन के चलते जयपुर में फंसे विभिन्न जिलों के कोचिंग छात्रों को सोमवार का दिन खुशखबर लेकर आया। राज्य के विभिन्न जिलों के इन कोचिंग छात्रों को सोमवार को बसों के जरिए उनके घर पहुंचाया गया। कोरोना महामारी के चलते काफी दिनों से अपने परिजनों से दूर इन छात्रों के चेहरे पर अपने घर पहुंचने की खुशी साफ झलक रही थी। वहीं इनके अभिभावक भी खुश हो गए, क्योंकि, उन्हें अपने आंखों के तारों की फिक्र थी। अब अपने नौनिहालों को अपनी आंखों के सामने पाकर अभिभावक भी खुश हो जाएंगे। 

करीब 450 बच्चे अपने घर हुए रवाना


सांगानेर ब्लॉक सीएमओ धनेश्वर शर्मा
ने बताया कि जयपुर से सोमवार को कोचिंग छात्रों को सांगानेर थाने और बीटी रोड चौराहे से करीब 20 बसों में रवाना किया गया। 20 बसों में करीब 450 कोचिंग छात्र थे, जिनमें से अलवर, भरतपुर, करौली, दौसा सहित विभिन्न जिलों के छात्र थे।  इस दौरान सांगानेर उपखण्ड अधिकारी घनश्याम शर्मा भी मौजूद थे। उन्हीं के निर्देशानुसार छात्रों को उनके घर रवाना किया गया। 

सभी छात्रों की हुई स्क्रीनिंग, खाने की थी व्यवस्था


सांगानेर ब्लॉक सीएमओ ने बताया कि दोनों ही जगहों पर पहले सभी बच्चों की स्क्रीनिंग की गई। इसके लिए दो डॉक्टर और दो कम्पाउण्डर मौके पर मौजूद थे। सभी बच्चों की जांच की गई, कहीं उन्हें जुकाम, बुखार, खांसी तो नहीं है। दोनों ही जगह बच्चों के खाने की पूरी व्यवस्था की गई थी और सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस जाब्ता तैनात था। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर में नया अध्यक्ष चुनने आज एक जाजम पर बैठेंगे व्यापारी