सांगानेर के बुजुर्ग को आखिर किसने दिया कोरोना,  मालपुरागेट थाना क्षेत्र में लगी धारा 144

कागजी मोहल्ले में कोरोना पॉजिटिव आई बुजुर्ग की रिपोर्ट...पुलिस उपायुक्त(पूर्व) डॉ. राहुल जैन ने आदेश जारी कर लगाई धारा 144

जस्ट टुडे
जयपुर। राजधानी जयपुर के रामगंज में लगातार आए कोरोना पॉजिटिव के केसेज ने राज्य सरकार के माथे पर चिंता की लकीरें उकेर दी थीं। तमाम प्रयासों के बाद भी रामगंज में कोरोना संक्रमण के पॉजिटिव मिलते ही जा रहे थे। आखिरकार रामगंज के 13 स्थानों को चिह्नित कर सील कर दिया गया। लेकिन, चिंता इससे भी बड़ी यह है कि रामगंज से बाहर कोरोना कैसे फैल रहा है। रामगंज के बाद शहर के कई अन्य क्षेत्रों में भी कोरोना पॉजिटिव मिले। खास बात यह है कि इन लोगों में किसी की भी ट्रेवल हिस्ट्री नहीं थी। रविवार को भी सांगानेर के कागजी मोहल्ला में एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई, वह कोरोना पॉजिटिव था। इस केस में भी यही आया कि बुजुर्ग व्यक्ति की भी ट्रेवल हिस्ट्री नहीं थी। 
ऐसे में मन में सवाल यह उठता है कि आखिर शहर के अन्य क्षेत्रों में कोरोना कैसे फैल रहा है। पूरे मामले की गहनता से पड़ताल करती जस्ट टुडे की खास रिपोर्ट।


किसी परिचित से होने की प्रबल संभावना



सांगानेर स्थित कागजी मोहल्ला में रविवार को 65 वर्षीय एक बुजुर्ग व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट आई। विश्वसनीय सूत्रों ने बताया कि ये बुजुर्ग करीब एक-डेढ़ साल से बीमार चल रहे थे। ऐसे में ये लम्बे समय से ही घर पर ही थे। घर से बाहर कहीं भी नहीं गए थे। ऐसे में सवाल उठता है कि फिर इनमें कोरोना संक्रमण कहां से आया। इसका सटीक जवाब देना तो मुश्किल है, लेकिन, संभव है कोई इनका रिश्तेदार कुशलक्षेम पूछने घर पर आया हो, वह कोरोना पॉजिटिव हो, रिश्तेदार को भी स्वयं के कोरोना पॉजिटिव होने का पता नहीं था। ऐसे में जाने-अनजाने में किसी परिचित से ही इन बुजुर्ग व्यक्ति को कोरोना होने की प्रबल संभावना दिखती है।


विशेषज्ञों का यह है मत


विशेषज्ञों का कहना है कि किसी खाने-पीने की वस्तु या सामान लाने वाले से वायरस के सम्पर्क में आने से भी संक्रमण फैलता है। यदि कोई ऐसी जगह जाए, जहां पॉजिटिव व्यक्ति पहले आकर जा चुका था और वायरस वहां था, तो भी संक्रमण फैलता है। चूंकि, बुजुर्ग व्यक्ति कई साल से बीमार थे, ऐसे में ये तो घर के बाहर गए नहीं। ऐसे में विशेषज्ञों की पहली बात भी इसकी पुष्टि करती है कि किसी बाहरी व्यक्ति या सामान से ही बुजुर्ग को कोरोना हुआ। 


मालपुरा गेट थाना क्षेत्र में यहां लगी धारा 144



    सांगानेर मुख्य बाजार की फाइल फोटो

इस बारे में व्यापार महासंघ के मीडिया प्रभारी पुरुषोत्तम बच्चानी ने बताया कि पुलिस उपायुक्त(पूर्व) डॉ. राहुल जैन ने आदेश जारी कर थाना क्षेत्र मालपुरा गेट में तत्काल प्रभाव से धारा 144 लागू कर दी है। आदेश के मुताबिक रविवार को सांगानेर में कागजी मोहल्ला स्थित वीआईपी गली में एक व्यक्ति के कोरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट आई है। हालांकि, व्यक्ति का देहांत हो चुका है। इसलिए अन्य जगहों पर वायरस के संक्रमण को रोकने और आमजन के स्वास्थ्य की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए दण्ड प्रक्रिया संहिता-1973 की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लगाई गई है। धारा 144 थाना क्षेत्र मालपुरा गेट, सांगानेर में जामा मस्जिद से पश्चिम दिशा में स्थित हाजी अब्दुल वहीद देशवानी का मकान नम्बर 13/2, कागजी मोहल्ला से सम्पूर्ण वीआईपी गली का क्षेत्र तथा जामा मस्जिद से दक्षिण दिशा में स्थित शकूर का मकान व तेजाजी मन्दिर के पास से पश्चिम दिशा में स्थित अब्दुल वहीद देशवानी के मकान नम्बर 13/2, कागजी मोहल्ला तक के सम्पूर्ण क्षेत्र में धारा 144 प्रभावी रहेगी। 


सेनेटाइज कर किया सील


सांगानेर स्थित कागजी मोहल्ला निवासी एक बुजुर्ग की रविवार को कोरोना रिपोर्ट आई, हालांकि, इनका इंतकाल अभी कुछ दिनों पहले हो चुका था। इस रिपोर्ट में इनके कोरोना पॉजिटिव होना आया। इसके बाद रविवार को पुलिस-प्रशासन और चिकित्सकों की टीम मौके पर पहुंची। एहतियातन परिवार के सभी सदस्यों को चिकित्सकों की टीम जांच के लिए ले गई। वहीं इनके आस-पास के क्षेत्र को सेनेटाइज कर सील कर दिया गया है।


कहीं प्रशासन की चूक तो नहीं

रामगंज में कोरोना पॉजिटिव आने के बाद शुरुआत में पुलिस वहां पर ज्यादा सख्ती नहीं दिखा पाई थी। नतीजतन रामगंज से कई लोग शहर के अन्य क्षेत्रों में भी पहुंच गए थे। हालांकि, स्थानीय जनता और पुलिस प्रशासन के सहयोग से उन्हें तुरन्त ही क्वारेंटाइन होम पहुंचा दिया गया था। फिर भी इस तरह की चूक से ही रामगंज से बाहर शहर के अन्य क्षेत्रों में कोरोना फैलने की पूरी आशंका को बल मिलता है।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार