पंजाब के ग्रीन जोन तरन तारन में भी महाराष्ट्र से पहुंचा कोरोना

जस्ट टुडे
चंडीगढ़। अभी तक कोरोना से कोसो दूर रहे पंजाब के तरन तारन में भी 5 संक्रमित मिलने से हड़कम्प मचा हुआ है। अभी तक तरन तारन ग्रीन जोन में शामिल था। 
जानकारों का कहना है कि यह संक्रमण महाराष्ट्र के नांदेड़ से पंजाब लौटे 8 श्रद्धालुओं से तरन तारन पहुंचा है। इन श्रद्धालुओं में 8 में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। 



प्रशासन ने आशंका जताई ये सभी श्रद्धालु स्वयं के वाहनों से पंजाब लौटे हैं। कोरोना के बढ़ते खतरे के मद्देनजर पंजाब सरकार ने बाहर से आने वाले हर शख्स का कोरोना टेस्ट कराने का फैसला किया है। इसके अलावा उन्हें 14 दिनों के लिए सरकारी क्वारेंटाइन में भी रहना होगा। श्रद्धालुओं को वापस लाने के लिए पंजाब सरकार ने 80 लग्जरी बसें भेजी हैं जो सोमवार शाम को पंजाब के लिए रवाना हो चुकी हैं।

स्क्रीनिंग में नहीं मिले थे लक्षण, अब क्षेत्र किया सील

नांदेड़ से लौटने वाले 8 कोरोना मरीजों में से पांच तरन तारन के सुरसिंह गांव से हैं, जबकि तीन कपूरथला के फगवाड़ा से हैं। तरनतारन में नांदेड़ से लौटे श्रद्धालुओं की सुरसिंह अस्पताल में स्क्रीनिंग भी हुई थी और उनमें कोई लक्षण सामने नहीं आए थे। प्रशासन ने सुरसिंह गांव और लाहुका को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है। यहां एंट्री और एग्जिट पॉइंट सील कर दिए हैं। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार