कुसुम जैन की एक पुकार और कबूतर करते हैं दुलार 


  • आमेर महल के पास स्वयंसेवी संस्था ग्राम भारती समिति की सचिव रोज कबूतरों को खिला रही दाना

    कबूतरों को हुआ अपनत्व का अहसास, हथेली पर बैठ चुगते हैं दाना


 
जस्ट टुडे
जयपुर। कबीरदास जी ने कहा है कि ऐसी बानी बोलिए, मन का आपा खोए...औरन को शीतल करें, आपहु शीतल होय। यानी ऐसी वाणी में बात कीजिए कि सभी का मन प्रसन्न हो जाए और स्वयं का मन भी प्रसन्नचित हो जाए। कुछ ऐसी ही वाणी के जरिए पक्षियों को भी अपने प्रेम के पाश में बांध रखा है, कुसुम जैन ने। कुसुम जैन जैसे ही कबूतरों को दाना डालने आती हैं, उन्हें देखकर ये पक्षी उन्हें चारों ओर से घेर लेते हैं। कबूतर उनके हाथ पर बैठकर काफी देर तक दुलार करते हैं।
 
मेरे आते ही खुशी से लगते हैं झूमने


कुसुम जैन ने बताया कि लॉकडाउन के चलते कोई भी बाहर नहीं निकल रहा है। लोगों ने परिवार के भरण-पोषण का इंंतजाम तो अपने घरों में कर रखा है। अन्य जरूरतमंदों को समाज-सेवियों और सरकार की ओर से राशन सामग्री वितरित की जा रही है। लेकिन, इस कठिन समय में इन पक्षियों का ध्यान हर किसी को नहीं है। इसलिए हमने सोचा कि इस लॉकडाउन में इन पक्षियों के लिए भी दाने का इंतजाम किया जाए। इसलिए फिलहाल पक्षियों को रोजाना दाना-पानी का इंतजाम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब इन कबूतरों से लगाव हो गया है। जब तक इन्हें दाना-पानी नहीं खिला देती, मन में संतुष्टि ही नहीं मिलती। ये कबूतर भी रोज मेरे आने का इंतजार करते हैं। इन्हें पता होता है कि मैं किस समय आऊंगी। मेरे आते ही ये अपनी आवाज में खुशी का इजहार करते हैं। 

जमनालाल बजाज पुरस्कार से भी सम्मानित


आमेर महल के पास स्वयं सेवी संस्था ग्राम भारती समिति की सचिव कुसुम जैन इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में महिला और पुरुषों को जीवन यापन के लिए स्वाबलम्बी बनाने के लिए सामाजिक उत्थान का कार्य कर रही हैं। पर्यावरण और एड्स अवेयरनेस आदि की जानकारी भी ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को देती हैं। अभी कोरोना महामारी के चलते लोगों को सुरक्षित रहने के बारे में जानकारी दे रही हैं। इस समय समिति की ओर से मास्क बनाकर जरूरतमंदों को वितरित किए जा रहे हैं। कुसुम जैन को महिला आयोग, केन्द्र सरकार, राजस्थान सरकार सहित कई विदेशी सरकारों की ओर से समाजसेवा के लिए सम्मानित किया जा चुका है। 2019 में जमनालाल बजाज पुरस्कार भी इन्हें मिल चुका है। स्वयं सेवी संस्था ग्राम भारती समिति के डायरेक्टर भवानी शंकर शर्मा हैं। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार