कोरोना संकट में परिवार चलाने के लिए 8.2 लाख लोगों ने निकाला रिटायरमेंट फण्ड

जस्ट टुडे
नई दिल्ली। कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन में अपने परिवार का पेट पालने के लिए 8 लाख से अधिक लोगों ने रिटायरमेंट कोष से रुपए निकालने पड़े हैं। श्रम मंत्रालय की ओर से दिए गए आंकड़े के अनुसार इस दौरान करीब 8.2 लाख लोगों ने ईपीएफओ और निजी ट्रस्टों के जरिए कुल 3243.17 करोड़ रुपए निकाले हैं।



ईपीएफओ ने पिछले माह की 28 तारीख को संगठित क्षेत्र के श्रमिकों को रिटायरमेंट फण्ड से नॉन रिफंडेबल एडवांस निकालने की अनुमति दी थी। श्रम मंत्रालय की मानें तो केन्द्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के तहत काम करने वाले ईपीएफओ ने कुल 12.91 लाख दावों का निपटारा किया है। इसमें प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पैकेज के तहत 7.40 लाख कोरोना क्लेम भी शामिल है। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर में नया अध्यक्ष चुनने आज एक जाजम पर बैठेंगे व्यापारी