खाड़ी देशों में फंसे भारतीयों को लाएगा युद्धपोत

जस्ट टुडे
नई दिल्ली। कोरोना वायरस के बाद लगे लॉकडाउन की वजह से खाड़ी देशों में लाखों भारतीय फंसे हैं। विश्वसनीय सूत्रों के मुताबिक इन्हें निकालने कर लिए भारतीय नौसेना तैयार है। यदि जरूरत हुई तो इसके लिए लैंडिंग प्लेटफॉर्म युद्धपोत आईएनएस जलाश्व और मगर श्रेणी के दो युद्धपोतों को भेजा जाएगा। सरकार ने इन्हें तैयार रहने के लिए कहा है। सूत्रों का कहना है कि आईएनएस जलाश्व फिलहाल विशाखापट्टनम् से बाहर है, वहीं मगर श्रेणी के युद्धपोत पश्चिमी समुद्री तट पर हैं। 

एक करोड़ भारतीय कामगार हैं


ईरान, इराक, कुवैत, सऊदी अरब, बहरीन, कतर, यूएई और ओमान समेत फारस की खाड़ी के किनारे वाले देशों को खाड़ी देश कहा जाता है। यहां करीब एक करोड़ भारतीय कामगार हैं। इनमें से ज्यादातर तेल कम्पनियों में हैं या फिर कंस्ट्रक्शन का काम करते हैं। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार