'जन' की 'सेवक' बनी अनोखी मीणा

कोरोना संकट: कुट्टीन साहबदास की सरपंच पंचायत वासियों को पहुंचवा रही जरूरी सामग्री

जस्ट टुडे
खेरली गंज। अलवर जिले की सबसे बड़ी अनाज मण्डी के रूप में मशहूर खेरली कस्बे में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन ने एहतियातन कफ्र्यू लगा दिया है। पुलिसकर्मी कस्बे के चप्पे-चप्पे पर तैनात हैं, जिससे किसी व्यक्ति की चूक का नतीजा समस्त कस्बेवासियों को नहीं भुगतना पड़े। प्रशासन ने घर-घर आवश्यक सामग्री पहुंचाने की पुख्ता व्यवस्था कर दी है। 


हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना


खेरली में कोरोना की दस्तक के बाद उसके आस-पास के गांवों में भी प्रशासन अलर्ट हो गया है। खेरली गंज के निकटवर्ती कस्बे कुट्टीन साहबदास ग्राम पंचायत में भी लोग घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं। सरपंच अनोखी मीणा भी लगातार लोगों को घरों में ही सुरक्षित रहने की अपील की जा रही है। हालांकि, सरपंच अनोखी मीणा पंचायत के प्रत्येक निवासी तक आवश्यक सामानों को भी पहुंचवाने की पूरी व्यवस्था करवा रही है। शुक्रवार को भी अनोखी मीणा ने राशन सामग्री की गाड़ी को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।


सोशल डिस्टेंसिंग का किया पालन


शुक्रवार को भी कुट्टीन साहबदास में राशन सामग्री और सब्जी की गाड़ी आई। लोगों ने मुंह पर मास्क लगाकर और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर जरूरत का सामान लिया। इस दौरान सरपंच अनोखी मीणा पूरे समय वहीं रहीं।


उन्होंने भी लोगों को एक-दूसरे से दूरी बनाते हुए आवश्यक सामग्री आराम से लेने की हिदायत दी। ग्रामीण होने के बाद भी लोग कोरोना के प्रति गंभीर दिखे और सरकार की ओर से दी गईं हिदायतों का बखूबी पालन कर रहे हैं। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार