जावडेकर ने राहुल को दी ट्यूशन लेने की सलाह

जस्ट टुडे
नई दिल्ली। लोन डिफॉल्टर्स के मुद्दे पर भाजपा और कांग्रेस में बहस तेज हो गई है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के राहुल गांधी को जवाब देने के 13 घंटे बाद प्रकाश जावडेकर ने भी राहुल पर कटाक्ष किया है। जावडेकर ने बुधवार को कहा कि राहुल गांधी समझ लें कि राइट ऑफ का मतलब माफी नहीं होता। मोदी सरकार ने किसी का एक पैसे का कर्ज माफ नहीं किया है।



भ्रम फैलाने से फायदा नहीं होगा। राहुल गांधी को राइट ऑफ और वेव ऑफ का फर्क समझने के लिए पी चिदंबरम से ट्यूशन लेना चाहिए। जावडेकर ने कहा कि राइट ऑफ अकाउंटिंग का नॉर्मल प्रोसेस है। यह बैंकों को डिफॉल्टर के खिलाफ कार्रवाई करने या रिकवरी करने से नहीं रोकता।

राहुल ने यह कहा था

एक आरटीआई के जवाब में आरबीआई ने बताया था कि 30 सितंबर 2019 तक 50 कम्पनियों का 68 हजार 607 करोड़ रुपए का कर्ज राइट ऑफ किया गया था। यह जानकारी मंगलवार को सामने आई। इसके बाद राहुल गांधी ने ट्वीट किया था कि संसद में मैंने एक सीधा सा प्रश्न पूछा था, मुझे देश के 50 सबसे बड़े बैंक चोरों के नाम बताइए। वित्तमंत्री ने जवाब देने से मना कर दिया। अब आरबीआई ने नीरव मोदी, मेहुल चौकसी समेत भाजपा के मित्रों के नाम बैंक चोरों की लिस्ट में डाले हैं।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार