इस बार बिना घुंघरूओं के ही जाएगी इंडियन स्कीमर

लॉकडाउन के चलते उड़ीसा और मुम्बई से नहीं आ पाएंगे विशेषज्ञ


जस्ट टुडे
धौलपुर। कोरोना संकट के कारण देशभर में लॉकडाउन चल रहा है। ऐसे में दुर्लभ पक्षी इंडियन स्कीमर के पैरों में फ्लैग और रिंग नहीं बांधी जा सकेगी। दरअसल, इस पक्षी के कंजरवेशन के लिए बॉम्बे नेचुरल हिस्ट्री सोसायटी चम्बल में इंडियन स्कीमर पर शोध कर रही है।



इनके पैरों में छल्ले बांधने के लिए उड़ीसा और मुम्बई से इनको जाल में पकडऩे वाले विशेषज्ञ आते हैं। चूंकि, अभी लॉकडाउन चल रहा है, ऐसे में इस बार उनका आना मुश्किल है। ऐसे में दुनियाभर की 80 फीसदी से अधिक इंडियन स्कीमर की आबादी चम्बल में आकर भी बिना घुंघरू बंधवाए चली जाएगी। 


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर बाजार में पटाखे की चिंगारी कहर बनकर टूटी