डॉ. हर्षवर्धन ने की 30 राज्यों से बात, तुरन्त बनाओ कोरोना स्पेशल अस्पताल 

कोविड-19 के संबंध में उठाए गए कदमों के बारे में राज्यों के साथ की वीडियो कॉन्फ्रेंस


जस्ट टुडे
नई दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, मैं आप सभी को अपने सम्बंधित राज्यों और संघ शासित प्रदेशों में कोविड-19 से मुकाबला करने की हमारी लड़ाई में स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए बधाई देता हूं। डॉ. हर्षवर्धन ने शुक्रवार को नई दिल्ली में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कमार चौबे की उपस्थिति में कोविड-19 की गंभीरता को कम करने के लिए किए गए कार्यों और तैयारियों की समीक्षा करने के लिए सभी राज्यों और संघ शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों, मुख्य सचिवों, स्वास्थ्य सचिवों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस (वीसी) के जरिये एक बैठक की।


राजस्थान सहित इन राज्यों ने की बात


वीडियो कॉन्फ्रेंस में महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, केरल, आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, पंजाब, बिहार, तेलंगाना, हरियाणा, ओडिशा, असम, चंडीगढ़, झारखंड, अंडमान और निकोबार, छत्तीसगढ़, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम, त्रिपुरा, सिक्किम, नागालैंड, तमिलनाडु, मेघालय और दादरा और नागर हवेली ने हिस्सा लिया।

सोशल डिस्टेंसिंग का करवाएं पालन

बीमारी के संचरण (ट्रांसमिशन) की शृंखला को तोडऩे के लिए अगले कुछ हफ्तों के महत्व की ओर इशारा करते हुए, डॉ. हर्षवर्धन ने एक-दूसरे से दूरी बनाकर रखने (सोशल डिस्टेंसिंग) और व्यक्तिगत स्वच्छता के बारे में जागरूकता फैलाने का आग्रह किया, जो कोविड-19 से दृढ़ता के साथ मिलकर मुकाबला करने में मदद करेगा।

गर्भवतियों का रखें विशेष ध्यान

उन्होंने कहा कि राज्यों को यह ध्यान रखने की आवश्यकता है कि गर्भवती महिलाओं, डायलिसिस के मरीजों और थैलेसीमिया जैसी बीमारियों से पीडि़त लोगों की उपचार व चिकित्सा आवश्यकताओं को पूरा किया जाए। उन्होंने राज्यों /संघ शासित प्रदेशों का आह्वान किया कि वे किसी भी समय रक्त की पर्याप्त आपूर्ति के लिए स्वैच्छिक रक्तदान को बढ़ावा देने और सुरक्षित रक्तदान के लिए मोबाइल यूनिट की व्यवस्था करें।

कोविड-19 अस्पताल बनाने की आवश्यकता

डॉ. हर्षवर्धन ने देश में समर्पित कोविड-19 अस्पतालों की स्थिति की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा, देश के प्रत्येक जिले में समर्पित कोविड-19 अस्पताल स्थापित करने की आवश्यकता है और उन्हें जल्द से जल्द अधिसूचित करने की आवश्यकता है ताकि लोगों को उनके बारे में सूचित किया जा सके। 

जरूरी सामान का दे चुके ऑर्डर

डॉ. हर्षवर्धन ने प्रत्येक राज्य की पीपीई, एन-95 मास्क, जांच किट, दवाओं और वेंटिलेटर की आवश्यकता और इनकी पर्याप्तता की समीक्षा की और आश्वासन दिया कि सरकार यह सुनिश्चित करने की पूरी कोशिश कर रही है कि इन महत्वपूर्ण वस्तुओं की आपूर्ति में कोई कमी न हो। विभिन्न आवश्यकताओं के लिए ऑर्डर पहले ही दिए जा चुके हैं।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार

सांगानेर में नया अध्यक्ष चुनने आज एक जाजम पर बैठेंगे व्यापारी