'10 का दम' कागजी मोहल्ले मेंं रोक रहा कोरोना के कदम

गुरुवार को 9682 लोगों की कोरोना वॉरियर्स ने की स्क्रीनिंग 



जस्ट टुडे
जयपुर। सांगानेर स्थित कागजी मोहल्ले में पिछले 10 दिन से कोरोना वॉरियर्स की टीम मुस्तैद है। कोरोना संक्रमित और कोई ना हो, इसी का ध्यान में रखते हुए वॉरियर्स टीम अपनी जान दांव पर लगा लोगों की स्क्रीनिंग कर रही है। उनके माथे पर चिंता की कोई लकीर नहीं है। बस फिक्र है तो सिर्फ इतनी कि कुछ लोगों की लापरवाही का खमियाजा दूसरे लोगों को ना भुगतना पड़े, ऐसे में जस्ट टुडे की भी लोगों से अपील है कि वे घर में ही रहें, सुरक्षित रहें। 



प्रतीकात्मक फोटो


ब्लॉक सीएमओ, सांगानेर धनेश्वर शर्मा ने बताया कि गुरुवार को कागजी मोहल्ले में चिकित्सा विभाग की 43 टीमों ने 1970 घरों का सर्वे किया। इनमें करीब 9682 लोगों की स्क्रीनिंग की। स्क्रीनिंग में लोगों से उनकी ट्रेवल हिस्ट्री, पिछले दिनों कितने लोगों से मिले, किसी बाहरी व्यक्ति के उनके यहां आने, पहले से किसी बीमारी से ग्रसित होने सहित कई तरह के सवाल पूछे जाते हैं, जिनके आधार पर प्रथमदृष्टया यह अनुमान लग जाता है कि कहां पर कोरोना संक्रमण की संभावना ज्यादा होती है। 


10 दिन में 139977 लोगों की हुई स्क्रीनिंग


सांगानेर के कागजी मोहल्ले में लगातार घरों का सर्वे और लोगों की स्क्रीनिंग का कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। आंकड़ों के मुताबिक मंगलवार तक नौ दिनों के अंदर कोरोना वॉरियर्स करीब 139977 लोगों की स्क्रीनिंग कर चुके हैं। इससे साफ पता चलता है कि कोरोना संक्रमण को लेकर चिकित्सा विभाग कितना संजीदा है।


कब               कितने घर          कितने लोग
21 अप्रेल         2750               14,500
22 अप्रेल         3957               20266
23 अप्रेल         3874               18024
24 अप्रेल         4151               20823
25 अप्रेल         2996               15274
26 अप्रेल         1893               5601
27 अप्रेल         2653               12564
28 अप्रेल         1802               11577
29 अप्रेल         2392               11666
30 अप्रेल         1970               9682


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार