मई में जरूरमंदों की दो जून की रोटी का इंतजाम कर रही 'समर्पण संस्था'

- लोकोपकार-2 अभियान के तहत तीन चरणों में 30 जरूरतमंद परिवारों को दिलवाया राशन


जस्ट टुडे
जयपुर।
मानवता व परोपकार के लिए समर्पित समर्पण संस्था की ओर से रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़े में जरूरतमंद परिवारों को राशन किट वितरण के लिए 'लोकोपकार-2' अभियान चलाया गया है। इसके तहत अब तक तीन चरणों में 30 जरूरतमंद परिवारों को चिह्नित कर उनके घर राशन किट पहुंचाया जा चुका है। शुक्रवार को तीसरे चरण में अवधपुरी, भगवती नगर प्रथम, अम्बेडकर नगर, हसनपुरा, सांगानेर, प्रताप नगर आदि क्षेत्रों में  10 जरूरतमंद परिवार चिह्नित कर उन्हें राशन किट भेंट किए गए। 

सख्त लॉकडाउन के चलते डिजीटल पेमेंट से दिला रहे सहायता

राशन किट में 10 किलो आटा, 1 किलो चावल, 1 किलो चीनी, 500 ग्राम दाल, 1 लीटर तेल, 1 किलो नमक, 100 ग्राम चाय, 100 ग्राम मिर्च, 100 ग्राम हल्दी आदि पैक किए गए हैं। अब कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए और सरकार के 10 से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन को देखते हुए संस्था की ओर से जरूरतमंद परिवारों को राशन पेटीएम या फोन-पे से भुगतान करके उनके पास की दुकान से ही दिलवाया जाएगा। हसनपुरा में तीन जरूरतमंद परिवारों को निरंकारी सेवादार विकास कुमार की ओर से जनता किराना स्टोर से राशन दिलवाया गया, जिसका भुगतान संस्था की ओर से 2118 रुपए पेटीएम करके किया गया।

जरूरतमंदों की मदद को आगे आएं सम्पन्न लोग

समर्पण संस्था के संस्थापक अध्यक्ष आर्किटेक्ट डॉ. दौलत राम माल्या ने सभी सदस्यों व दानदाताओं से संस्था के इस अभियान में खुले दिल से सहयोग करने की अपील की है, ताकि अधिक से अधिक जरूरतमंदों की मदद की जा सके। उल्लेखनीय है कि संस्था की ओर से गत वर्ष वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की पहली लहर में भारत सरकार की ओर से किए गए लॉकडाउन के दौरान लोकोपकार अभियान चलाकर कुल 30 चरणों मे 750 जरूरतमंद परिवारों को राशन किट वितरण किया गया था ।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार