मानसरोवर में अतिक्रमणों के खिलाफ हल्ला बोल

- युवा एकता मंच और मानसरोवर संघर्ष समिति की ओर से अतिक्रमणों के खिलाफ सोमवार को दिया जाएगा धरना

जस्ट टुडे
जयपुर।
सांगानेर विधानसभा के मानसरोवर को अतिक्रमण मुक्त बनाकर उसे खूबसूरत बनाने के लिए युवा एकता मंच और मानसरोवर संघर्ष समिति की ओर से सोमवार को धरना दिया जाएगा। मानसरोवर नगर-निगम जोन उपायुक्त कार्यालय में दिए जाने वाले इस धरने में मानसरोवर के पार्कों और सरकारी जमीन को अतिक्रमण मुक्त बनाने की मांग की जाएगी। इसके बाद मुख्यमंत्री, नगरीय विकास मंत्री, लोकायुक्त, जयपुर कलक्टर,   ग्रेटर महापौर, ग्रेटर आयुक्त, ग्रेटर उपायुक्त सतर्कता, नगर-निगम मानसरोवर उपायुक्त, सम्बंधित तहसीलदार, हाउसिंग बोर्ड आयुक्त और उपायुक्त सहित सभी जिम्मेदार लोगों को लिखित शिकायत भी की जाएगी। इसके बाद भी यदि कार्रवाई नहीं होती है तो फिर राजस्थान हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई जाएगी।

मानसरोवर के नव-निर्माण को देंगे धरना

युवा एकता मंच और मानसरोवर संघर्ष समिति के अध्यक्ष जयप्रकाश बुलचंदानी ने बताया कि मानसरोवर के नव-निर्माण के लिए और खूबसूरत बनाने के लिए यह धरना देंगे। उन्होंने कहा कि अभी पार्कों और सरकारी जमीन पर रसूखदारों ने कब्जा कर रखा है। अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की मिलीभगत के चलते उन पर कार्रवाई भी नहीं होती है। ऐसे में हम धरने में पार्कों और सरकारी जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराने की मांग करेंगे। इस धरने में महिला मोर्चा भी शामिल होगा। 

ग्रीन फाइल की आड़ में हो रहे अवैध निर्माण

बुलचंदानी ने बताया कि मानसरोवर जोन में ग्रीन फाइल की आड़ में धड़ल्ले से अवैध निर्माण हो रहे हैं। इससे मानसरोवर की खूबसूरती पर तो दाग लग ही रहा है, वहीं नगर-निगम को राजस्व की हानि भी हो रही है। उन्होंने बताया कि कई जगह जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की शह पर रातों-रात अवैध निर्माण खड़े हो रहे हैं। ऐसे में हम धरना देकर सरकार और उच्चाधिकारियों का ध्यान मानसरोवर की ओर आकर्षित करना चाहते हैं। 

इस दौरान जयपुर जन संघर्ष समिति ने भी युवा एकता मंच और मानसरोवर संघर्ष समिति के अध्यक्ष जयप्रकाश बुलचंदानी को समर्थन दे दिया है। जयपुर जन संघर्ष समिति के अध्यक्ष विजय बहादुर गौड़ और महासचिव नीलम गौड़़ ने बताया कि अतिक्रमण के खिलाफ धरना दिया जाएगा।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार