राजस्थान में इसलिए बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव

प्रदेश में कोरोना की मृत्यु दर में आ रही है गिरावट : बोले चिकित्सा मंत्री


जस्ट टुडे
जयपुर। प्रदेश में दिन-प्रतिदिन कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी क्यों हो रही है? इस पर बात करते हुए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि प्रदेश में पहले के मुकाबले कहीं ज्यादा जांचें प्रतिदिन की जा रही हैं, यही वजह है कि कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि प्रदेश में मृत्युदर में पिछले दिनों की तुलना में गिरावट आई है, ऐसे में आमजन घबराए नहीं। 


डॉ. शर्मा ने कहा कि पिछले सप्ताह तक प्रतिदिन औसत 15 हजार जांचें प्रतिदिन की जा रही थी। अब विभाग लगभग 20 हजार जांचें प्रतिदिन कर रहा है। जितनी ज्यादा जांचें होंगी, उतने ज्यादा केसेज आ सकते हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का भी यहीं मंशा है कि गंभीर बीमारियों से पीडि़त लोगों को प्लाज्मा थैरेपी दी जाए, प्रदेश में मृत्यु दर कम रहे और किसी भी कोविड संक्रमित व्यक्ति की मृत्यु ना हो। 


राज्य स्तरीय टास्क फोर्स का किया गठन


स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जिन जिलों में संक्रमण का प्रसार ज्यादा हो रहा है, उनमें विशेषज्ञ दलों को भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि अलवर एवं पाली जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण से उत्पन्न स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए संक्रमण से बचाव, रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए राज्य स्तरीय दल भेजे गए हैं। इस दल में डॉ. अवतार सिंह दुआ के नेतृत्व में एक राज्य स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया गया है, जो कोविड-19 के बचाव के उपायों के अलावा, जरूरी डाटा का विश्लेषण कर राज्य सरकार को अवगत कराएगी।

असावधानी भी संक्रमण की वजह


मंत्री ने बताया कि जो लोग होम और संस्थागत क्वारेंटाइन में रह रहे हैं, उनका भी अभियान चलाकर निरीक्षण करने की योजना विभाग बना रहा है, ताकि उनकी पूरी मॉनिटरिंग हो। उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना को हराने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रही है। उन्होंने कहा कि लोगों की असवाधानी भी संक्रमण के प्रसार की वजह है।



बचाव से ही कोरोना की हार संभव


कुछ लोगों को लगता है कि कोरोना खत्म हो गया है और वे लापरवाही बरत रहे हैं। नतीजतन उनके सम्पर्क में आने से कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार बार—बार लोगों से अपील भी कर रही है कि कोरोना की अभी कोई दवा नहीं आई है और केवल सावधानी ही उपचार है। उन्होंने कहा कि सरकार बार—बार चेहरे पर मास्क लगाने, बार—बार साबुन से हाथ धोने, भीड़ या समूह में ना जाने और कोरोना से सभी प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील कर रही है। सावधानी और बचाव के अनुशासन से ही कोरोना को हराया जा सकता है।


Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार