रामगंज में ड्रोन से होगी निगरानी... कर्फ्यू तोडऩे वालों की अब नहीं खैर

रामगंज एवं प्रभावित अन्य क्षेत्रों में आगे की रणनीति तय करने के लिए नोडल अधिकारी ने परकोटा एवं कर्फ्यू ग्रस्त बाहरी क्षेत्र का किया दौरा, जिला कलक्टर एवं पुलिस कमिश्नर भी रहे साथ

 

जस्ट टुडे

जयपुर। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए नोडल अधिकारी ऊर्जा विभाग के प्रमुख शासन सचिव अजिताभ शर्मा ने शुक्रवार को जिला कलक्ट्रेट में जिला कलक्टर, पुलिस आयुक्त, आयुक्त नगर निगम एवं अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों की बैठक लेकर परकोटा क्षेत्र में कर्फ्यू की सख्ती से पालना करवाने एवं आवश्यक सेवाओं के कर्मियों के अलावा सभी प्रकार की आवाजाही को नियंत्रित करने के निर्देश दिए। बाद में उन्होंने रामगंज, परकोटा के अन्य क्षेत्र एवं परकोटा से बाहर के  कर्फ्यू ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा किया। 

अनाधिकृत व्यक्ति ना करे प्रवेश

शर्मा ने कलक्ट्रेट में बैठक में निर्देश दिए कि रामगंज एवं परकोटा क्षेत्र में ऎसी व्यवस्था की जाए कोई भी अनधिकृत व्यक्ति प्रवेश न कर सके। उन्होंने कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के जिला प्रशासन एवं पुलिस को निर्देश दिए। साथ ही निर्देशित किया कि ड्रोन से रखी जा रही निगरानी की रिकॉर्डिंग के आधार पर भी कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए।


आगे की रणनीति के दिए निर्देश



बैठक के बाद नोडल अधिकारी शर्मा ने कर्फ्यू ग्रस्त क्षेत्र की फील्ड विजिट के दौरान कोरोना के प्रसार की वस्तुस्थिति के आकलन के लिए रामंगज में चिकित्सा टीमों द्वारा किए जा रहे सैम्पलिंग कार्य का निरीक्षण किया एवं चिकित्सा अधिकारियों से चर्चा की। साथ ही कर्फ्यू एवं लॉकडाउन से सोशल डिस्टेंसिंग की पालना एवं आगे की रणनीति के लिए चारदीवारी परिक्षेत्र के क्लस्टर प्वाइंट्स का अवलोकन कर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश प्रदान किए।


यहां किया दौरा


शर्मा ने परकोटा क्षेत्र के घाटगेट, चार दरवाजा क्षेत्र, सुभाष चौक, जोरावरसिंह गेट, रामगढ़ मोड़, दिल्ली रोड, गलता गेट, सूरजपोल एवं परकोटे से लगे एवं प्रभावित बाहरी क्षेत्र अमृतपुरी, एमडी रोड, राजापार्क आदि क्षेत्रों का भी दौरा किया। उन्होंने उन स्थानों, गलियों एवं भवनों की स्थिति का भी अवलोकन किया जहां लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 

Popular posts from this blog

सांगानेर सिंधी पंचायत और सिंधी ब्रह्म खत्री ने त्रिलोक महाराज को हटाया

केन्द्र सरकार से पैसा अटका, सीईटीपी प्लांट तीन साल से लटका...अब प्रदूषण मंडल ने कोर्ट से दिया झटका

व्यापार महासंघ, सांगानेर के पूर्व पदाधिकारियों की मीटिंग से जन्मा नया विवाद, एक पदाधिकारी ने चुनाव पर सहमति होना बताया तो दूसरों ने किया इससे इनकार